Breaking News

अमेरिका और भारत के बीच संबंध केवल दो सरकारों के बीच नहीं बल्कि लोगों पर आधारित: PM मोदी

यह संबंध, 21वीं सदी की सबसे महत्वपूर्ण पार्टनरशिप्स में है और इसलिए आज राष्ट्रपति ट्रंप और मैंने हमारे सम्बन्धों को कॉम्प्रिहेन्सिव ग्लोबल स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप के स्तर पर ले जाने का निर्णय लिया है।

आतंक के समर्थकों को जिम्मेदार ठहराने के लिए आज हमने अपने प्रयासों को और बढ़ाने का निश्चय किया है। आज हमारे बीच ड्रग तस्करी, नार्को-आतंकवाद और संगठितत अपराध जैसी गंभीर समस्याओं के बारे में एक नए मेकैनिज्म पर भी सहमति हुई है।

कुछ ही समय पहले स्थापित हमारी स्ट्रैटेजिक एनर्जी पार्टनरशिप सुदृढ़ होती जा रही है। और इस क्षेत्र में आपसी निवेश बढ़ा है। तेल और गैस के लिए अमेरिका भारत का एक बहुत महत्वपूर्ण स्त्रोत बन गया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप और उनके प्रतिनिधिमंडल का भारत में एक बार फिर हार्दिक स्वागत है। मुझे विशेष खुशी है की इस यात्रा पर वो अपने परिवार के साथ आए हैं।

पिछले आठ महीनों में राष्ट्रपति ट्रंप और मेरे बीच ये पांचवी मुलाकात है। मोटेरा में राष्ट्रपति ट्रंप का कार्यक्रम हमेशा याद रखा जाएगा। यह स्पष्ट हुआ कि अमेरिका और भारत के बीच संबंध केवल दो सरकारों के बीच नहीं बल्कि लोगों पर आधारित हैं।

आज हमारी चर्चा में डिफेंस, टेक्नॉलजी, ट्रेड रिलेशन और पीपल टू पीपल रिलेशन पर बात हुई। हमारे बीच रक्षा सहयोग महत्वपूर्ण है। हमारे डिफेंस मैन्युफैक्चरर एक दूसरे की सप्लाइ चेन का हिस्सा बन रहे हैं।