Breaking News

अमेरिकी राजनयिक – एक बड़ा कदम चंद्रयान 2 मिशन भारत के लिए था

अमेरिकी राजनयिक की तरफ से चंद्रयान 2 के मिशन के लिए मुबारकबाद दी गई है। यूएस के दक्षिण और मध्य एशिया के कार्यवाहक सचिव ऐलिस जी वेल्स ने इसरो के कठिन प्रयास के लिए शुमकानाएं दी है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि लैंडर व्रिकम को चंद्रमा पर भेजने का प्रयास काफी कठिन काम था। बता दें कि शनिवार को चंद्रयान 2 का लैंडर व्रिकम को भेजने के दौरान उसका संपर्क इसरो से टूट गया था। इसरो से संपर्क टूटने के बाद पूरा देश मायूस हो गया था, लेकिन ऐसे समय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी का टूटा विश्वास जोड़ा। 

पीएम मोदी ने वैज्ञानिकों का बढ़ाया हौसला
भारत द्वारा चंद्रमा पर भेजें गए यान चंद्रयान 2 के लैंडर विक्रम के असफल होने के बाद प्रधानमंत्री ने इसरो के वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाने के लिए एक दमदार संबोधन दिया था। इसके बाद उन्हें छोड़ने आए इसरो के प्रमुख के. सिवन मिशन की असफलता के कारण रोने लगे। पीए मोदी ने उन्हें गले लगा लिया और उनका हैसला बढ़ाया। 

ऑर्बिटर से है उम्मीदे कायम
मिशन मंगल 2 दौरान ऑर्बिटर को लैंडर से 2 सितंबर से अलग कर दिया गया था। इस पूरे मिशन में लैंडर व्रिकम से संपर्क टूटने के बाद सभी की उम्मीदें ऑर्बिटर से बंध गई है। इसरो की तरफ से कहा गया था कि ऑर्बिटर अभी सुरक्षित है और चंद्रमा के आस-पास चक्कर लगा रहा है। कुछ समय तक ऑर्बिटर वही रहेगा और महतवपूर्ण जानकरियां देते रहेगा। 

loading...