Breaking News

एनआरसी पर अभी केंद्र सरकार विचार नहीं कर रही: रविशंकर प्रसाद

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) का विरोध कर रहे लोगों से कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कुछ सवाल किए हैं. उन्होंने कहा कि CAA का विरोध करने वालों से पूछना चाहता हूं कि दुनिया के किसी भी लोकतांत्रिक देश में नागरिकता या पासपोर्ट के बिना एंट्री कर सकते हैं क्या.

उन्होंने ये भी साफ किया कि CAA से किसी की भी नागरिकता नहीं जाएगी. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि विरोध करने वालों से मैं कहना चाहता हूं कि प्रधानमंत्री से लेकर गृह मंत्री और खुद मैं कई बार बता चुका हूं कि इससे किसी की नागरिकता नहीं जाएगी. साथ ही उन्होंने कहा कि NRC जब भी लाया जाएगा लोगों से बातकर लाया जाएगा.

नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर पर उन्होंने कहा कि यह एक रूटीन प्रोसेस है. इससे पता चलता है कि आप के घर पर वो क्या सामान हैं जो भविष्य में सरकारी योजनाओं में एक डेटा के रूप में काम आ सकते हैं.

कानून मंत्री ने कहा कि एनपीआर का नोटिफिकेशन 15 मार्च, 2010 को पी चिदंबरम लेकर आए थे. तब उन्होंने कहा था कि एनपीआर पहला कदम है एनआरसी का. एनपीआर का डेटा एनआरसी के प्रयोग में ला सकते हैं.

वहीं एनआरसी पर उन्होंने कहा कि यह कब लाया जाएगा इसके लेकर चर्चा नहीं हुई है. जब भी लाया जाएगा तो सबसे सलाह लेकर लाया जाएगा. सभी राज्यों की सरकारों और पार्टियों से बात करके लाया जाएगा, लेकिन एनआरसी कब लाया जाएगा इसकी कोई समय सीमा तय नहीं हुई है.