Breaking News

लेमन डेटॉक्स डाइट लेते समय रहे सावधान वार्ना हो सकता है नुकसान जाने

लेमन डिटॉक्स डाइट का मतलब है, कि आपको 1 या 2 हफ्ते तक सिर्फ लेमन जूस से बने ड्रिंक को लेना है, जिस डाइट में कोई भी ठोस फूड्स शामिल नहीं है। इस डाइट को अपनाने वाले लोगों का मानना है कि यह आपकी स्किन और डाइजेशन में सुधार करती है और एनर्जी और वेट लॉस को बढ़ावा देता है। यह डाइट टॉक्सिन को हटाने और बॉडी को क्लीन करने के काम आती है। इस डाइट में, शराब, ड्रग्स या अन्य टॉक्सिन बॉडी से आसानी से निकल जाते है। हालांकि, इन दावों का समर्थन करने के लिए कोई कट्टर सबूत नहीं है। साथ ही, यह डाइट कुछ मामलों में हानिकारक हो सकती है।

यह डाइट बॉडी के किसी भी नेचुरल प्रोसेस को बढ़ाती नहीं है, बल्कि उनमें बाधा उत्पन्न कर सकती है। आप सभी जानती हैं कि बैलेंस डाइट के बिना, आपकी बॉडी को ठीक से काम करने के लिए पोषक तत्व और एनर्जी प्राप्त नहीं होती है। इसमें टॉक्सिन और अपशिष्ट उत्पादों को निकालना शामिल है। इस डाइट में फाइबर भी मौजूद नहीं होता है, जो डाइजेशन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, क्योंकि यह बड़ी आंतों और मेटाबॉलिज्म को प्रभावित करता है। फाइबर के बिना, बड़ी आंत टॉक्सिन और अपशिष्ट उत्पादों को ठीक से नहीं हटा सकता है।

लेमन डिटॉक्स डाइट बॉडी से टॉक्सिन को हटाने में हेल्प ही नहीं करता है, बल्कि कुछ लोगों को इसे लेने से फ्रेश और एक्टिव महसूस होता हैं। साथ ही ये डाइट वेट लॉस में भी मदद करती हैं क्योंकि इससे बहुत अधिक मात्रा में कैलोरी पर प्रतिबंध लगता है। कोरियन महिलाओं पर की गई एक स्टडी से सामने आया कि 7 दिन लेमन डिटॉक्स डाइट से बॉडी को फैट तेजी से कम होता है। लेकिन ये तरीका हेल्दी नहीं है। और जब आप नॉर्मल डाइट फिर से लेना शुरू करती हैं तो आपका वजन तेजी से बढने लगता है।