Breaking News

विटामिन B12 के कई है दुष्प्रभाव, जाने इसके लक्षण और उपाय

हमारे शरीर को कई मिनरल्स और विटामिन्स के पोषण की आवशयकता होती है और इनमे से एक आवशयक विटामिन है बी 12 . विटामिन बी 12 एक जरूरी पोषक तत्व है जो आपके शरीर के अच्छे से काम करने के लिए जरूरी है।  विटामिन बी12 आपके शरीर के काम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है कभी भी शरीर में विटामिन की कमी रातों-रात नहीं होती है। यह धीरे-धीरे होता है। शरीर में विटमिन बी 12 की कमी होने में कई साल लगते हैं।

 

इसके लक्षण कुछ अन्य स्वास्थ्य समस्याओं से मिलते-जुलते हैं इसलिए अकसर लोग इसपर ध्यान नहीं देते हैं। विटमिन बी 12 की कमी से आंखों में समस्या, मेमरी लॉस, फिजिकल को-ओर्डिनेशन में दिक्कत, हाथ-पैर या हाथ या पैर में झुनझुनी, आदि की समस्या हो जाती है। बी 12 की ज्यादा कमी से रेड ब्लड सेल्स की भी कमी होती है। इससे आपके शरीर में ऑक्सीजन कम होता है जिससे थकान और उबकाई आती है।

अगर हम विटामिन बी 12 के स्रोतों की बात करे तो बी 12 मुख्य रूप से मांसाहारी खाने में पाया जाता है इसलिए शाकाहारी खाने वाले लोग अक्सर इसकी कमी से पीड़ित होते हैं। ऐनीमिया से जूझ रहे लोग या फिर जिनकी किसी तरह की सर्जरी हुई हो, उन्हें बी 12 की कमी होने की संभावना ज्यादा होती है।

यह हमारे लिए कई करने से आवशयक होता है क्योकि विटमिन बी 12 रेड ब्लड सेल्स को बनाने में मदद करता है। ऐसे में बी 12 की कमी से चक्कर आने लगते हैं। शरीर कमजोर लगने लगता है और हर समय थकान महसूस होती है।  लोगो में अक्सर होने वाली ब्लड क्लॉटिंग की समस्या से बी12 और ओमेगा फैटी ऐसिड को शामिल किया जाए तो इससे ब्लड क्लॉट बनने के चांस कम हो जाते हैं। इससे हार्ट स्ट्रोक्स और अन्य दिल की बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।