Breaking News

शादीशुदा व्यक्ति से प्यार कर बैठीं थीं आशा पारेख इसलिए रह गईं कुँवारी

हिंदी सिनेमा में कभी अपने रंग रूप और अपनी एक्टिंग से सभी के दिलों पर राज करने वाली दिग्गज अभिनेत्री आशा पारेख ने फ़िल्मों में जबरदस्त काम किया है और वह अब तक कई कामयाब फ़िल्मों की हीरोइन रहीं हैं. ऐसे में आप जानते ही होंगे आशा ने उम्रभर अकेले रहने का फ़ैसला किया था और इसके पीछे एक इमोशनल वजह है, जिसका खुलासा उन्होंने पहले अपनी बायोग्राफी और फिर वर्व मैगज़ीन को दिये इंटरव्यू में किया है. जी हाँ, आशा ने अपने सिंगल स्टेटस के बारे में सवाल करने पर कहा था कि, ”यह उनकी ज़िंदगी का सबसे अच्छा फ़ैसला था.”

इस दौरान आशा ने बताया था कि, ”वो जिस शख़्स से प्यार करती थीं, वो शादीशुदा थे. ऐसे में उनसे शादी करके वो घर तोड़ने वाली औरत नहीं कहलाना चाहती थीं. इसलिए उनके पास सिर्फ़ यही विकल्प बचा कि वो आजीवन सिंगल रहें.” इसी के साथ आशा पारेख ने अपनी ज़िंदगी के इस अहम और इमोशनल किस्से का ज़िक्र अपनी बायोग्राफी हिट गर्ल में भी किया है, जो 2017 में रिलीज़ हुई थी. आपको बता दें कि इसमें आशा ने बताया कि, ”वो फ़िल्ममेकर नासिर हुसैन से प्यार करती थीं, मगर वो शादीशुदा थे, जिसकी वजह से आशा ने उनसे दूरी बना ली थी.”

आपको बता दें कि आशा, वहीदा रहमान और हेलन की अच्छी दोस्त हैं और अक्सर इन तीनों को साथ घूमते हुए देखा जाता है. आप सभी को पता ही होगा आशा पारेख 1959 से 1973 के बीच हिंदी फ़िल्मों की टॉप अभिनेत्रियों में शुमार रही थीं और फ़िल्मों के अलावा वह साल 1994 से 2000 तक सिने आर्टिस्ट एसोसिएशन की अध्यक्ष रहीं. इसी के साथ सेंसर बोर्ड की पहली महिला अध्यक्ष बनने का गौरव भी उन्हें ही मिला था.