Breaking News

हिंदी सिनेमा की इस अभिनेत्री ने खोला अपना टिफ़िन सेंटर, रहने के लिए भी नहीं था घर

सलमान खान के साथ फिल्म ‘वीरगति’ में काम कर चुकीं एक्ट्रेस पूजा डडवाल बीते कुछ दिनों से सुर्खियां बटोर रही हैं । पूजा काफी समय से बीमार थीं और अस्पताल में भर्ती थीं । अपना इलाज करवाने के लिए उनके पास पैसे नहीं थे। उन्होंने बॉलीवुड सितारों से मदद मांगी थी । एक समय था जब पूजा के आगे-पीछे फैन की लाइन होती थी और अब वो पैसों की मोहताज हो गई हैं । फिलहाल में एक लीडिंग पोर्टल से बात करते हुए पूजा ने बताया कि उन्हें एक काम मिल गया है । ये काम टिफिन बनाने का है । पूजा टिफिन बनाकर लोगों को भेजती हैं । पूजा ने कहा, ‘मुझे किसी का एहसान नहीं चाहिए । काम चाहिए । मैं फिल्म इंडस्ट्री के कई दोस्तों से मिल रही हूं, लोगों से काम मांग रही हूं, लोग मुझे आश्वासन भी दे रहे हैं कि काम मिल जाएगा ।’

‘मैं एक अच्छी अभिनेत्री हूं और एक्टिंग का अपना काम बहुत अच्छी तरह जानती हूं। मैंने खबरों में पढ़ा है कि निर्देशक अनीस बज्मी, सोहा अली खान और बमन ईरानी ने जब मेरी हालत के बारे में सुना तो दुःखी हुए और अनीस बज्मी ने यह भी कहा कि वह जब अपनी अगली फिल्म बनाएंगे मुझे कास्ट करेंगे।’ ‘मैं अनीस बज्मी, बमन ईरानी और सोहा अली खान की आभारी हूं। अब तक मुझे कोई काम नहीं मिला है। मेरे पास पैसे नहीं हैं । मैंने अपने गुजारे के लिए टिफिन सर्विस का काम करना शुरू कर दिया है। यह काम मैंने 3 दिन पहले ही शुरू किया। मेरे दोस्त और निर्देशक राजेंद्र सिंह ने मुझे टिफिन का काम शुरू करने की सलाह दी। उन्होंने इस काम के लिए मुझे जगह और सभी समान मंगवा कर दिए हैं।’

‘अब मैं यहीं काम की जगह पर रह रही हूं। चार दिन पहले तक मेरे पास रहने की जगह नहीं थी, आज रहने की जगह और खाने को खाना तो मिल ही रहा है। मुझे खुद पर और ऊपर वाले पर विश्वास है कि बहुत जल्द ही मुझे फिल्म इंडस्ट्री में भी काम मिलना शुरू हो जाएगा। सलमान खान ने मुझे नया जीवनदान दिया है । मैं उनसे मिलकर शुक्रिया अदा करना चाहती हूं ।’ ‘मेरे लिए तो सलमान खान ही भगवान हैं। जब मैं डेथ बेड पर थी तो भगवान ने सलमान को मेरी मदद के लिए भेज दिया था ।’ जानकारी के लिए बता दें कि पिछले साल मार्च के महीने में पूजा टीबी की गंभीर बीमारी से पीड़ित थीं। तब पूजा के पास इलाज के लिए कोई पैसे नहीं थे । सलमान खान ने अपनी निगरानी में 9 से 10 महीने तक पूजा के इलाज का पूरा खर्चा उठाया था।