Breaking News

आरक्षण का विरोध करने वाली अपर्णा यादव चाहती हैं लोकसभा का टिकट

लखनऊ. कैंट विधानसभा से चुनाव हार चुकी अपर्णा यादव अब संसद जाने के लिए एक बार फिर लोकसभा चुनाव लड़ना चाहती है। इसके लिए उन्होंने ससुर मुलायम सिंह यादव के जरिए सिफारिश तेज कर दी है, हालांकि अपर्णा यादव को आरक्षण विरोधी माना जाता है, ऐसे में यह आवाज भी उठने लगी है कि यदि अपर्णा को टिकट देंगे तो यह मुद्दा फिर गर्माएगा कि वह पहले तो ये बताएं कि आरक्षण का आज भी विरोध कर रही हैं या चुनाव की वजह से उनका मन बदल गया है।

गौरतलब है कि अपर्णा यादव ने खुद ही विधानसभा चुनाव के दौरान बर्खा दत्त को इंटरव्यू देते समय ये कहा था कि मंडल कमीशन जब लागू हुआ था तो उन्होंने इस आरक्षण के खिलाफ विरोध किया था। अपर्णा यादव ने कहा था कि रिजर्वेशन बिल के खिलाफ थीं मैं। इकोनॉमिक कोटा होना चाहिए। काफी सवर्ण गरीब हैं। इकोनॉमिक रिजर्वेशन होना चाहिए। कास्ट रिजर्वेशन नहीं होना चाहिए। खुद देखिए ये इंटरव्यू।

गोरखपुर के सुरेश चंद्र कहते हैं कि यह क्लीयर होना चाहिए कि वह किन मुद्दों के साथ चुनाव लड़ेंगी। क्योंकि यही नेता चुनाव जीत कर सदन जाते हैं और आरक्षित वर्ग का नुकसान करते हैं। कन्नौज की सुनीता कुमारी कहती हैं कि अपर्णा का ये बयान असहज कर देने वाला है। वह यदि चुनाव लड़ती हैं, तो पहले उन्हें मीडिया को अपनी बात बतानी होगी। अखिर वह आरक्षण के मुद्दे पर क्या राय रखती हैं।