Breaking News

कुर्मी वोट पर BJP खाएगी मात, कृष्णा पटेल को नीतीश का साथ!

<a class="a2a_button_twitter" href="http://www online crestor.addtoany.com/add_to/twitter?linkurl=http%3A%2F%2Fwww.dainikdunia.com%2Fapna-dal-krishna-patel-join-hand-with-nitish-kumar%2F&linkname=%E0%A4%95%E0%A5%81%E0%A4%B0%E0%A5%8D%E0%A4%AE%E0%A5%80%20%E0%A4%B5%E0%A5%8B%E0%A4%9F%20%E0%A4%AA%E0%A4%B0%20BJP%20%E0%A4%96%E0%A4%BE%E0%A4%8F%E0%A4%97%E0%A5%80%20%E0%A4%AE%E0%A4%BE%E0%A4%A4%2C%20%E0%A4%95%E0%A5%83%E0%A4%B7%E0%A5%8D%E0%A4%A3%E0%A4%BE%20%E0%A4%AA%E0%A4%9F%E0%A5%87%E0%A4%B2%20%E0%A4%95%E0%A5%8B%20%E0%A4%A8%E0%A5%80%E0%A4%A4%E0%A5%80%E0%A4%B6%20%E0%A4%95%E0%A4%BE%20%E0%A4%B8%E0%A4%BE%E0%A4%A5%21″ title=”Twitter” rel=”nofollow” target=”_blank”>

 

KRISHNA PATELलखनऊ ।। यूपी में भाजपा ने कुर्मी वोट बैंक को हथियाने के लिए अपना दल में जो सियासी तूफान पैदा किया वह अब उसके ही गले की फांस बनने जा रहा है। फर्क इंडिया पत्रिका को दिए इंटरव्यू में अपना दल की राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने साफ संकेत दिए हैं कि वह नीतीश कुमार से दिल्ली में एक मुलाकात कर चुकी हैं। अभी कई मुद्दों पर बात होनी है, लेकिन अपना दल करीब 150 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है।

कृष्णा पटेल ने यह भी कहा कि अपना दल में जो बेटी और मां का सीरियल चल रहा है, उसका प्रायोजक भाजपा है। भाजपा ने उनके पेट और पीठ दोनों में छुरा घोपा है। उन्होंने आगे कहा कि जब लोकसभा चुनाव हो रहा था, तो नरेंद्र मोदी वाराणसी में आए थे, उन्होंने मंच पर कुछ बातें की थी, लेकिन पीएम बनने के बाद उन्होंने कभी सुध नहीं ली। बेटी को मंत्री बनाया तो भी पार्टी के अध्यक्ष को याद नहीं किया।

अनुप्रिया ने नहीं उठाए फोन

अनुप्रिया पटेल की मां कृष्णा पटेल ने कहा कि उन्होंने बेटी अनुप्रिया को 30 बार फोन किया, लेकिन उसने फोन नहीं उठाया। वह ढाई साल से बात करने की कोशिश कर रही हैं, वह बात नहीं करना चाहती। उन्होंने आगे कहा कि अपने ही खलनायक हैं। अनुप्रिया को पहचानना चाहिए था। मैने ही अनुप्रिया को विधायक और सांसद बनाया। उसने मेरी भावनाओं के साथ धोखा किया है।

कहां से शुरू हुई अनबन की शुरुआत

window.fbAsyncInit = function() {
FB.Event.subscribe(
‘ad.loaded’,
function(placementId) {
console.log(‘Audience Network ad loaded’);
}
);
FB.Event.subscribe(
‘ad.error’,
function(errorCode, errorMessage, placementId) {
console.log(‘Audience Network error (‘ + errorCode + ‘) ‘ + errorMessage);
}
);
};
(function(d, s, id) {
var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0];
if (d.getElementById(id)) return;
js = d.createElement(s); js.id = id;
js.src = “//connect.facebook.net/en_US/sdk/xfbml.ad.js#xfbml=1&version=v2.5&appId=508989189290997”;
fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs);
}(document, ‘script’, ‘facebook-jssdk’));

अनुप्रिया पटेल और कृष्णा पटेल में अनबन की शुरूआत उस समय से ही हो गई थी, जब रोहनिया विधानसभा के उपचुनाव में अनुप्रिया ने टिकट को लेकर अपने पति की पैरवी करनी शुरू कर दी थी। वह अपने पति को टिकट दिलवाना चाहती थी। इस सीट पर कृष्णा पटेल ने चुनाव लड़ा था और वह हार गई थीं।

पार्टी बना रही हैं अनुप्रिया पटेल

अनुप्रिया पटेल खुद पार्टी बनाने को लेकर चुनाव आयोग में रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन किया है। इसको लेकर कृष्णा पटेल का कहना है कि पार्टी बनाना आसान है, चलाना मुश्किल, अनुप्रिया तो बहुत छोटी चीज है। कल्याण सिंह और उमा भारती पार्टी नहीं चला पाए। पापा का नाम किनारे रख दें, इसके बाद अनुप्रिया में दम है, तो पार्टी चलाए। अनुप्रिया को इस लिए पूछा जा रहा है क्योंकि भाजपा को भ्रम है कि वह कुर्मी वोट बैंक की नेता है।

फोटोः कृष्णा पटेल और उनकी बड़ी बेटी पल्लवी पटेल।

window.fbAsyncInit = function() {
FB.Event.subscribe(
‘ad.loaded’,
function(placementId) {
console.log(‘Audience Network ad loaded’);
}
);
FB.Event.subscribe(
‘ad.error’,
function(errorCode, errorMessage, placementId) {
console.log(‘Audience Network error (‘ + errorCode + ‘) ‘ + errorMessage);
}
);
};
(function(d, s, id) {
var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0];
if (d.getElementById(id)) return;
js = d.createElement(s); js.id = id;
js.src = “//connect.facebook.net/en_US/sdk/xfbml.ad.js#xfbml=1&version=v2.5&appId=508989189290997”;
fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs);
}(document, ‘script’, ‘facebook-jssdk’));

loading...