बसपा को बड़ा झटका, फर्जी निकला नवनिर्वाचित मेयर का जाति प्रमाण पत्र

MERATH.  नगर पालिका परिषद की नवनिर्वाचित अध्यक्ष नीलम शाह पत्नी शादाब खां का जाति प्रमाण पत्र फर्जी निकला है। उप जिलाधिकारी संभल की जांच में नीलम शाह की जाति शेख निकली है। जबकि उन्होंने चुनाव नामांकन में दाखिल शपथ पत्र के साथ अपनी जाति शेख ढपली का उल्लेख किया था।

नीलम शाह

नीलम का जाति प्रमाण पत्र फर्जी है

नीलम की जाति का सच जानने के लिए संभल के SDM को जांच सौंपी गई। SDM की जांच में पुष्टि हुई कि नीलम का जाति प्रमाण पत्र फर्जी है। इसलिए नीलम पिछड़ी जाति शेख ढपपाली की नहीं बल्कि सामान्य जाति शेख से हैं।  इसलिए नीलम ने चुनाव लड़ने के लिए जो पिछड़ी जाति का प्रमाण पत्र बनवाया था, वो फर्जी है।

यह भी पढ़ें. VIDEO: पीएम मोदी की सभा में भीड़ के लिये बीजेपी कर रही ये काम

बसपा प्रत्याशी नीलम ने अध्यक्ष पद का चुनाव

बता दें, हसनपुर नगर पालिका परिषद से अध्यक्ष पद की कुर्सी को पिछड़ी जाति के लिए आरक्षित किया था। जिसके बाद बसपा प्रत्याशी नीलम ने हसनपुर नगर पालिका परिषद से अध्यक्ष पद का चुनाव जीतकर फतह हासिल की थी।

बीजेपी अध्यक्ष ने की फर्जी होने की शिकायत

नीलम की जीत के बाद भारतीय जनता पार्टी के नगर अध्यक्ष अतुल गर्ग ने नीलम का जाति प्रमाण पत्र फर्जी होने की शिकायत जिलाधिकारी अमरोहा से की थी।

 

-FILE PHOTO

loading...
Pin It