आईपीसी की धाराएं अपराधी की तकदीर होती हैं-राजबीर सिंह यादव...

अपराध और अपराधी दोनों ही समाज के लिए ख़तरनाक हैं, लेकिन एक भोला-भाला आदमी गलत हरकत करने के बाद कैसे और किस तरह से अपराधी की परिभाषा में समा जाता है और उसकी जिंदगी बदल जाती है इसे जानने के लिए आपको अप...

कुंठित परंपरावाद की मर्ज है छेड़खानी और महिला अपराध!...

कुछ समय पहले महिलाओं के लिए सेल्फ डिफेंस कार्यक्रम में महिला पत्रकारों का समूह बैठा था. इनमें से बहुत-सी पत्रकार राष्ट्रीय स्तर पर जाना-माना नाम थीं. कार्यक्रम की शुरुआत में इंस्ट्रक्टर ने सभी पत्रका...