अब सफाई अभियान से दूर होगी गोरखपुर की इंसेफ्लाइटिस

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि अप्रैल माह में जापानी इंसेफ्लाइटिस के विरुद्ध अभियान संचालित किया जाएगा। इस दौरान एक से 18 वर्ष आयु के बच्चों को जेई का टीका लगाया जाएगा। इस दौरान स्वच्छता अभियान भी संचालित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जापानी इंसेफ्लाइटिस के उन्मूलन के लिए स्वच्छता एवं स्वच्छ पेयजल कारगर उपाय है।

CM योगी आदित्यनाथ

अन्तर्राष्ट्रीय महेसरा सेतु का लोकार्पण

मुख्यमंत्री आज यहां गोरखपुर जनपद में सोनौली-नेपाल को जोड़ने वाले अन्तर्राष्ट्रीय महेसरा सेतु का लोकार्पण करने के पश्चात जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने मोहरीपुर जंगल नन्दलाल सिंह रामपुर चक शेरपुर चमरहा, सिंहोरवा सम्पर्क मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का शिलान्यास भी किया। इसे अब 3 मीटर से 7 मीटर तक चौड़ा किया जाएगा। इसके लिए 36 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। इस सड़क के बन जाने से काफी गांवों एवं बड़ी आबादी को सुविधा मिलेगी।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि इंसेफ्लाइटिस के विरुद्ध अभियान में बीआरडी मेडिकल कालेज को सुदृढ़ किया जाएगा। यहां अतिरिक्त वेण्टीलेटर तथा नवजात के लिए वार्मर उपलब्ध कराया जाएगा। इसके आलावा गोरखपुर, बस्ती एवं आजमगढ़ मण्डल के सभी जनपदों में जिला अस्पताल में आईसीयू की स्थापना की जाएगी तथा प्रशिक्षित डाक्टर एवं स्टाफ तैनात किया जाएगा। महराजगंज, कुशीनगर, देवरिया, बस्ती, संतकबीरनगर, सिद्धार्थनगर, आजमगढ़, बलिया, मऊ के जिला अस्पतालों में भी इंसेफ्लाइटिस के इलाज की सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी कस्बे, नगर क्षेत्र, गांव में स्वच्छता अभियान चलेगा। उन्होंने इस अभियान में सभी से सहयोग की अपील करते हुए कहा कि स्वच्छ पेयजल अभियान भी संचालित किया जाएगा।

राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा 564 करोड़ रुपए की परियोजना

योगी ने कहा कि महेसरा सेतु के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा। वर्ष 2006 से शुरू हुए संघर्ष के परिणामस्वरूप 2009 में पुल स्वीकृत हुआ और राज्य सरकार को धन मिला परन्तु पुल का निर्माण धीमा रहा। वर्तमान सरकार बनने के बाद मात्र 10 माह की अवधि में इस पुल का निर्माण पूरा कराया गया। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण इसके लिए बधाई का पात्र है। उन्होंने कहा कि गोरखपुर एवं इसके आस-पास क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा 564 करोड़ रुपए की परियोजना में सड़क एवं पुल का काम हो रहा है। इसके अलावा 3014 करोड़ रुपए की परियोजना का प्रस्ताव भारत सरकार को प्रेषित है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज विकास की आवश्यकता है। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में विदेशों मंे भारत की छवि एक तेजी से विकसित हो रहे देश की बनी है। भारत की अर्थव्यवस्था तेजी से बढ़ रही है। प्रदेश सरकार भी इसमें कदम से कदम मिलाकर काम कर रही है। पूरे प्रदेश में 1.21 लाख किमी सड़कें गड्ढामुक्त की गयी हैं। गोरखपुर में नया खाद कारखाना बन रहा है। साथ ही, एम्स का निर्माण कराया जा रहा है। जुलाई से इसकी ओपीडी चालू की जाएगी। 1987 से लंबित प्रेक्षागृह के निर्माण के लिए धन आवंटित किया गया है।

18 घंटे बिजली दी जाये

योगी लोगों से अपील की कि बिजली चोरी हर हाल में रोकें। मीटर लगायें और बिल का भुगतान करें। प्रदेश सरकार ने निर्णय लिया है कि जनपद मुख्यालय को 24 घंटे, तहसील को 20 घंटे तथा ग्रामीण क्षेत्र में 18 घंटे बिजली दी जाये। बिजली केवल 4-5 जिलों को ही नहीं, बल्कि प्रदेश के सभी 75 जिलों को बिना भेदभाव के दी जा रही है।

समारोह की अध्यक्षता गोरखपुर के महापौर सीताराम जायसवाल ने की। नगर विधायक डा राधा मोहन दास अग्रवाल ने सभी का स्वागत किया। इस अवसर पर ग्राम्य विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा महेन्द्र सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

loading...
Pin It