RESEARCH छात्र PARMANAND YADAV की संस्थानिक हत्या के विरोध में मार्च

ALLAHABAD. RESEARCH छात्र  PARMANAND YADAV के सांस्थानिक हत्या का मामला अब गरमाने लगा है। इसके विरोध में आज इलाहाबाद के प्रसिद्ध डेलीगेसी छोटा बघाड़ा में प्रदर्शन हुआ। पूर्वांचल चौराहे से लेकर ऐलगंज तक कैंडिल मार्च निकाला गया। कैंडिल मार्च के समाप्त होने के बाद दो मिनट का मौन रख कर श्रद्धांजलि दी गई। श्रद्धांजलि देते वक्त छात्र काफी आहत दिखे और जिम्मेदारों को सजा दिलाने तक लड़ाई जारी रखने का निर्णय लिया।

कैंडल मार्च के दौरान छात्र नेता अविनाश विद्यार्थी ने कहा कि मनुवादी बहुजन समाज के होनहार छात्रों को स्वीकार्य नहीं कर रहे हैं, अगर यह मनुवादी नहीं सुधरे, तो इसका परिणाम बुरा होगा।

 

छात्र नेता आलोक नाथ भंटू ने कहा कि परमात्मा यादव बहुजन समाज का हीरा था। वह अपने प्रतिभा के दम पर देश प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों से गोल्ड मेडलिस्ट प्राप्त किया था। परमानंद की प्रतिभा से घबड़ा कर मनुवादियों ने उसे आत्महत्या करने के लिए मजबूर कर दिया। परमानंद के हत्यारों बहुजन छात्र सजा दिला कर रहेंगे। यदि इसे रोका नहीं गया तो बहुजन समाज की प्रतिभाएं इसी तरह खुदकुशी करती रहेंगी।

PARMANAND YADAV के लिए लैब भी सील करवा दिया

गौरतलब है कि भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (ट्रिपलआईटी) में पूर्व जूनियर रिसर्च फेलो परमात्मा यादव के आत्महत्या कर ली है। इस मामले में छात्रों ने फैक्ट फाइंडिंग कमेटी के सामने प्रो. अनुपम अग्रवाल पर गंभीर आरोप लगाए हैं। कहा कि प्रो. अग्रवाल उन्हें बिना किसी कारण के आए दिन अपमानित करते रहे हैं। आरोप के बाद कमेटी के चेयरमैन प्रो. यूएस तिवारी ने परमात्मा यादव के एचआरडी लैब को सील करवा दिया है।- DAINIKDUNIA.COM

कमेटी अपनी रिपोर्ट निदेशक को शनिवार तक सौंपेगी। ट्रिपलआईटी में पूर्व प्रोजेक्ट फेलो की आत्महत्या के बाद अब संस्थान के छात्र खुलकर सामने आ रहे हैं। उन्होंने फैक्ट फाइंडिंग कमेटी तथा निदेशक से मिलकर संस्थान में शोधछात्रों की समस्याओं की जानकारी दी।

आरोपों की गंभीरता को देखते हुए कमेटी के चेयरमैन प्रो. यूएस तिवारी ने सुरक्षा अधिकारी एलएन शर्मा से पूर्व प्रोजेक्ट फेलो के लैब को सील करवा दिया। इससे पहले प्रो. अनुपम अग्रवाल के खिलाफ जांच शुरू होने के बाद ही उन्हें छुट्टी पर भेजने के साथ प्रो. तपोव्रत लहरी को डीन की जिम्मेदारी सौंप दी गई थी।

कैंडल मार्च के मौके पर अविनाश विद्यार्थी, आलोक नाथ भंटू, नितिन यादव, राजेश भारती, सिन्टू, बिपिन, ऋतुराज यादव, आशीष यादव, पंकज, लल्लन, अनुराग, रोहित यादव, संतोष यादव सहित सैकड़ों छात्र मौजूद थे।

loading...
Pin It