Tuesday, September 7, 2021

अनहोनी के इंतजार में बस्ती का विकास भवन

finalबस्ती।।डीडीसी न्यूज़ नेटवर्क / राघवेंद्र सिंह ।। जिले के तहसील विभाग के एक कमरे में आग लगने से लाखों के सामान और दस्तावेज खाक हो गए थे इस घटना को हुए अभी ज्यादा दिन नहीं हुए लेकिन प्रशासन इससे भी सबक लेने को तैयार नही है। विकास भवन में भले ही बड़े अफसर बैठते हों लेकिन यहां अग्निसमन यंत्र की हकीकत ये है कि रिफिलिंग के अभाव में यंत्र हाथी के दांत साबित हो रहे हैं। 2007 के बाद से ही इसे बदलने या रिफिलिंग करने की जरूरत समझी ही नहीं गई। बीते छह सालों से ये केवल विकास भवन के दरवाजे की शोभा बढ़ा रहा है। जबकि यहीं पर ही पूरे जिले का विकास का डेटा रखा जाता है।

वास्तव में तो रीफिलिंग हर साल होनी चाहिए। इतना ही नहीं फायर ऑफिसर इसे हर साल जांच कर रिन्यूवल सर्टिफिकेट भी चस्पा करते हैं लेकिन अफसर हैं कि किसी अनहोनी का ही इंतजार कर रहे हैं। बस्ती सदर तहसील और जिला बेसिक अधिकारी के दफतर में दो बार आगजनी की घटनाएं हो चुकी हैं जिसमें कई महत्वपूर्ण दस्तावेज खाक हो गए थे इसके बाद भी प्रशासन नींद से नहीं जाग रहा है। डीडीसी न्यूज़ ने जब अफसरों से बात करनी चाही तो अफसरों ने कैमरे के सामने बोलने से ही इनकार कर दिया। और नौकरी बचाने का ही रोना रोने लगे। 

Leave a Reply