Thursday, September 2, 2021

अमर सिंह-जया प्रदा का ठिकाना अब कांग्रेस !

Jaya-Prada-Amar-Singh-store-launchमुरादाबाद ।।डीडीसी न्यूज़ नेटवर्क। मुरादाबाद संसदीय सीट से कांग्रेस एक बार फिर सेलीब्रेटी को ही मैदान में लाने जा रही है। सांसद मोहम्मद अजहरुद्दीन के पश्चिमी बंगाल जाने की अटकलों के बीच पार्टी ने मुरादाबाद लोकसभा सीट से अभिनेत्री और सांसद जयाप्रदा को चुनावी समर में लाने की तैयारी में है। पूर्व क्रिकेटर की सियासी पिच पर जयाप्रदा भी बैटिंग करने की पूरी तैयारी में है। सिर्फ उनके कांग्रेस में शामिल होने की औपचारिक घोषणा बाकी है। ऐसा माना जा रहा है कि इसके लिए अमर सिंह को राज्यसभा भेजने की शर्त को केवल मंजूर होना बाकी है।

सपा से नाता तोड़कर रामपुर की सांसद जयाप्रदा नए सियासी घर की तलाश में जुटी हैं। उन्होंने अमर सिंह के साथ मिलकर राष्ट्रीय लोकमंच बनाया। मंच के सियासत में दमदारी नहीं दर्ज करा पाने के बाद से जयाप्रदा ने कांग्रेस से नजदीकियां बना ली। उनके रामपुर से चुनाव लड़ने के बाद अपनी परंपरागत सीट खोने से चिंतित कांग्रेस भी हाथोंहाथ लेने में जुट गई। जयाप्रदा अभी विधिवत कांग्रेस में शामिल नहीं हुई हैं, लेकिन उनके साथ अगली पारी खेलने के लिए कांग्रेस ने पूरा तानाबाना बुन लिया है। अजहरुद्दीन के पश्चिमी बंगाल से लड़ने का बयान आने के बाद कांग्रेस जयाप्रदा को मुरादाबाद से लड़ाने पर विचार कर रही है। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने इस बारे में स्थानीय नेताओं से भी नए सियासी समीकरण पर मंथन किया है। नेतृत्व के कहने पर ही जिला कमेटी के पैनल में जयाप्रदा का नाम शामिल किया गया है।

सब कुछ ठीक रहा तो इसी माह जयाप्रदा कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर सकती हैं। पार्टी प्रत्याशियों की दूसरी सूची में उनके नाम की घोषणा की उम्मीद पार्टी कार्यकर्ताओं को है। जयाप्रदा के मुरादाबाद से प्रत्याशी घोषित होने के साथ ही कांग्रेस हाईकमान रामपुर से पूर्व सांसद बेगम नूरबानो के बेटे और विधायक नवेद को प्रत्याशी बनाने पर गंभीरता से विचार कर रही है। मुरादाबाद से पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राशिद अल्वी व पूर्व सांसद बेगम नूरबानों का नाम भी पैनल में गया है। पार्टी जयाप्रदा को अन्य प्रत्याशियों से मजबूत मानकर चल रही है, वहीं जयाप्रदा के मुरादाबाद से लड़ने पर नवेद को रामपुर में मजबूती से लड़ाने का मौका मिलेगा। कांग्रेस के जिलाध्यक्ष प्रो. एपी सिंह ने जयाप्रदा के यहां से लड़ने के निर्णय को पार्टी हाईकमान का बताया। जबकि महानगर अध्यक्ष असलम खुर्शीद का कहना है कि पार्टी नेतृत्व ने इस बारे में जानकारी जरूर ली है। जयाप्रदा को मैदान में उतारा जाएगा या नहीं? इसके बारे में हाईकमान ही निर्णय करेगा।

(कुछ इनपुट जागरण डॉट कॉम से)

Leave a Reply