Saturday, September 4, 2021

पत्रकारों का होगा मुफ्त इलाज, कैबिनेट का फैसला

uuiलखनऊ ।। डीडीसी न्यूज़ नेटवर्क।। यूपी सरकार ने लखनऊ के मान्यता प्राप्त पत्रकारों को एसजीपीजीआई में निःशुल्क चिकित्सा का तोहफा देकर पत्रकारों की एक बड़ी मांग को पूरा करने का काम किया है। आज कैबिनेट की बैठक में कई फैसले लिए गए लेकिन पत्रकारों को एसजीपीजीआई में निःशुल्क चिकित्सा सेवा देने पर भी सरकार ने मुहर लगाई। इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट (आईएफडब्लूजे) ने राज्य सरकार के संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) में निःशुल्क चिकित्सा सुविधा देने के फैसले का हार्दिक स्वागत किया है।

फेडरेशन के अध्यक्ष के विक्रम राव ने आज मंत्रिपरिषद में लिये गये इस ऐतिहासिक फैसले पर पूरे प्रदेश की पत्रकार बिरादरी की ओर से मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को आभार प्रकट करते हुए उम्मीद जताई है कि भविष्य में भी प्रदेश सरकार पत्रकार हित में आवश्यक कदम उठायेगी। राव ने कहा है कि सरकारी अस्पतालों में पत्रकारों के लिये चिकित्सा सुविधा का प्रबंध पूर्व से ही है लेकिन बेहतर इलाज के लिए एसजीपीजीआई में भी यह सहूलियत देने की मांग काफी समय से लम्बित थी जिसे आज अखिलेश यादव की अगुवाई वाली समाजवादी पार्टी की सरकार ने पूरा किया है। राव ने कहा कि विगत कुछ वर्षों के दौरान धनाभाव के चलते संजय गांधी पीजीआई में इलाज पूरा नहीं कराने के कारण कई पत्रकार साथियों को असमय ही हमारे बीच से विदा होना पड़ा है।

उन्होंने कहा कि आईएफडब्लूजे जल्दी ही मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाकात कर पत्रकारों के हित में पहली बार उठाये गये इस कदम के लिए आभार ज्ञापित करेगी। उन्होंने कहा कि फेडरेशन के सचिव हेमंत तिवारी व लखनऊ के अध्यक्ष सिद्धार्थ कलहंस बीते काफी समय से इस मांग को लेकर प्रयासरत थे। गौरतलब है कि मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति के अध्यक्ष व सचिव सहित सभी प्रमुख पदाधिकारी फेडरेशन से संबद्ध हैं व समय-समय पर पत्रकारों के हितों की लड़ाई लड़ते रहे हैं।

राव ने कहा है कि अगले चरण में पूरे प्रदेश के पत्रकारों को यह सुविधा दिलाने की मांग मुख्यमंत्री से की जायेगी। उन्होंने आशा व्यक्त की है कि लखनऊ में पत्रकारों के लिये नई आवासीय योजना के बारे में प्रदेश सरकार जल्द ही सकारात्मक कदम उठायेगी।

Leave a Reply