Tuesday, September 7, 2021

महेंद्र नाथ यादव सपा के बचाव दल के साथ पहुंचे नेपाल

11178548_781335741979678_25374721_nलखनऊ (डीडीसी न्यूज़ एजेंसी)। नेपाल में राहत समाग्री बांटने और लोगों को बचाने का काम कर रहा है सपाइयों का दल। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर 50 से अधिक युवा सपाईयों का दल नेपाल के भूकंपीय त्रासदी मे मदद के लिए जुटा है। इस दल की अगुआई समाजवादी पार्टी के युवा नेता सुनील यादव ‘साजन’ कर रहे हैं। इसी दल में बस्ती जिले के युवा नेता महेंद्र नाथ यादव भी यादव भी शामिल हैं।

समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बताया कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का मानना है कि हम रिश्तेदार बदल सकते हैं, पर पड़ोसी नहीं बदल सकते। आज हमारा पड़ोसी देश नेपाल और उसके लोग तकलीफ में हैं। उसका दर्द हमारा दर्द है। उनके दर्द के मर्म को हम सभी को समझना होगा। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि भूकंप पीड़ितों की मदद के लिए राज्य सरकार हर संभव कदम उठाएगी। उत्तर प्रदेश सरकार ने भारी मात्रा में राहत सामग्री नेपाल के भूकंप पीड़ितों के लिए भेजी है।

नेपाल भेजे गए इस दल में बस्ती जिले से महेंद्र नाथ यादव, फिरोजाबाद से उदयवीर सिंह, बलिया से अरविंद गिरी, कानपुर से डा. इमरान, जौनपुर से अजीत प्रताप सिंह, उन्नाव से रमेश श्रीवास्तव, शामिल हैं। यह दल राज्य सरकार की ओर से भेजी गई राहत सामग्री को सही ढंग से बंटवाने का काम करेगा।

समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भूकंप पीड़ित नेपालवासियों के को मदद पहुंचाने की हर व्यवस्था कर रहे हैं। नेपाल को खाद्य सामग्री, मेडिकल सहायता तथा परिवहन व्यवनेस्था उपलब्ध कराई गई है। जिससे समय से सभी को सुविधाएं मिल सके। पड़ोसी नेपाल को राहत पहुंचाने के साथ उत्तर प्रदेश में भी भूकंप पीड़ितों की मदद में उन्होंने तत्काल कदम उठाए हैं।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर मंगलवार को 28 ट्रक रवाना किए गए हैं, जिसमें 17 ट्रक पानी, सात ट्रक बिस्किट, चार ट्रक मैगी और दूध हैं। नेपाल में फंसे हुए लोगों को लाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने 100 बसों की व्यवस्था की है, जिसमें से 82 बसें काठमांडो पहुंच गई है। नेपाल, गोरखपुर के बीच बस सेवा भी चालू हो गई है। नेपाल भारत की सीमा के जिलों में विशेषकर गोरखपुर, महाराजगंज, लखीमपुर में राहत कैम्प आरम्भ किए गए हैं जहां रहने व खाने पीने की सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है।

फोटोः नेपाल में भूकंप आपदा के दौरान राहत बचाव कार्य में जुटे सपाई।