Saturday, September 4, 2021

मिड-डे-मील चख सीएम ने परखी गुणवत्ता

 

औचक निरीक्षण में दो अफसरों पर भी गिरी गाज, ग्राम प्रधानों से भी मिले मुख्यमंत्री लिया विकास कार्यों का जायजा।

rbl cm visit-1रायबरेली।।डीडीसी न्यूज़ नेटवर्क।। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रायबरेली का औचक दौरा कर कार्यों में लापरवाही और शिथिलता पाए जाने पर जिला पूर्ति अधिकारी विद्याराम अहिरवार को तत्काल निलंबित करने और बेसिक शिक्षा अधिकारी ज्ञानेन्द्र प्रताप सिंह भदौरिया को कार्यों के प्रति उदासीनता के आरोप में तबादले का आदेश दिया है। मुख्यमंत्री के औचक निरीक्षण से जिले के आला अफसरों में हड़कंप मचा रहा।

 निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि सर्वांगीण विकास के लिए सरकार हर कदम उठाने के लिए तैयार है। ऐसे में अफसरों की लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी क्यों कि अफसरों के टाल मटोल और ढ़ुलमुल रवैए की वजह से ही विकास कार्य प्रभावित होते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के विकास के लिए ग्रामीण क्षेत्रों का समान विकास जरूरी है जिसे ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने ग्राम्य विकास की विभिन्न योजनाएं लागू की हैं।

रायबरेली के विकास खण्ड बछरावां के डॉ. राममनोहर लोहिया समग्र ग्राम विकास योजना के तहत चयनित ग्राम रैन में कराये जा रहे विकास कार्यों का भी मुख्यमंत्री ने औचक निरीक्षण किया और अब तक कराए गए कार्यों के बारे में जानकारी ली। निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने ग्राम प्रधान से विभिन्न विकास कार्यों की प्रगति के बारे में भी बातचीत कर वास्तविक हाल जाना। मुख्यमंत्री ने विकास कार्यों को संकल्प बताते हुए कहा कि राज्य सरकार के सामने कई चुनौतियां हैं, जिनका निस्तारण किया जा रहा है। प्रदेश के चयनित लोहिया समग्र विकास ग्रामों में विकास कार्य तेजी से कराए जा रहे हैं। शिक्षण कार्यों का जायजा भी मुख्यमंत्री ने लिया और मिड-डे-मील की गुणवत्ता को खुद खा कर हकीकत जानी।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को आगाह करते हुए कहा कि वे राज्य सरकार द्वारा निर्धारित मानकों एवं लक्ष्यों के अनुसार विकास कार्यों को समय से पूरा करवाएं, किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

 

Leave a Reply