Monday, September 6, 2021

मुलायम के एक दोस्त की सलाह ने अमिताभ को जेल जाने से बचाया

Amitabh-Bachchan-WITH MAULAYAM SINGH YADAV AKHILESH KRISHNA MOHANलखनऊ (अखिलेश कृष्ण मोहन)।। दोस्ती और दोस्त की सही सलाह की कोई कीमत नहीं होती। इसके बाद भी लोग न तो दोस्त की कद्र करते हैं और न ही दोस्ती की। मुलायम सिंह यादव के करीबी अमर सिंह का कहना है कि बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन अपनी फिल्म बागबान के नाम की तरह नहीं, बल्कि बागउजाड़ हैं। सहारा के बोर्ड से हटाने के मुद्दे पर अमिताभ मुझसे नाराज थे। मैंने उन्हें सहारा के कारोबार के बारे में चेताया था। यदि उन्हें चेतावनी नहीं दी होती, तो आज वे भी जेल में होते।

उधर यह भी खबर है कि अमर सिंह से दिल्ली के लुटियन जोन स्थित सरकारी बंगला छूटने वाला है। केंद्र की मोदी सरकार ने अमर सिंह से 27 लोधी स्टेट नाम का बंगला वापिस लेने की तैयारी कर ली है। अमर सिंह अब सांसद नहीं हैं और दिल्ली की राजनीति में भी अब उनका पहले जैसा दखल नहीं है। यह बंगला अब केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को अलॉट किया जाएगा। अमर सिंह के पास यह बंगला पिछले 13 साल से था। अब उनका सामान बांधा जा रहा है और वे राजधानी के बाहरी इलाके में छत्तरपुर स्थित अपने फार्महाउस पर शिफ्ट हो रहे हैं। अमर सिंह जब लुटियन जोन के इस बंगले में आए थे, तो उनकी बेटियों की उम्र केवल एक साल थी। उन्होंने आठ महीने तक अपने खर्चे पर बंगले की मरम्मत कराई।

एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत में उन्होंने बताया कि, मैंने कभी नहीं सोचा था कि एक दिन में सांसद नहीं रहूंगा। इसलिए मैंने यह भी नहीं सोचा कि मुझे मकान छोड़ना पड़ेगा। हालांकि, राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को भी अपना बंगला छोड़ना पड़ता है। बंगला छोड़ने के बारे में अमर सिंह कहते हैं कि, घर छोड़ने का कोई दुख नहीं है। राजनीति एक जिम्मेदारी है, जिसका बोझ अब मुझसे हट चुका है।

फाइल फोटोः मुलायम सिंह यादव के साथ अमिताभ बच्चन।