Thursday, September 2, 2021

राहुल को पीएम बनाना चाहती है कांग्रेस-मोदी

1467293_566700103405707_1553682330_nबीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस का एकमात्र एजेंडा राहुल गांधी को ‘देश की कीमत पर’ हर हाल में स्थापित करना है.

शिवपुरी में एक रैली को अपने संबोधन में मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस का एक सूत्रीय एजेंडा पुत्र (राहुल) को स्थापित करना है, चाहे यह देश की कीमत पर हो. देश दूसरे स्थान पर है, सिर्फ और सिर्फ पुत्र का करियर सुरक्षित होना चाहिए.’

शिवपुरी गुना लोकसभा सीट का हिस्सा है. इस सीट पर केंद्रीय मंत्री कांग्रेस के ज्योतिरादित्य सिंधिया और बीजेपी के जयभान सिंह पवैया के बीच मुकाबला है.

मोदी ने प्रधानमंत्री पद का कथित तौर पर मजाक उड़ाने के लिए ‘शहजादे’ को आड़े हाथों लेते हुए कहा, ‘प्रधानमंत्री की कुर्सी का किसी ने भी इस तरह अपमान नहीं किया जिस तरह इस परिवार ने किया. जब प्रधानमंत्री विदेश में देश का प्रतिनिधित्व कर रहे हों तो उनका सम्मान बनाए रखना हर किसी का दायित्व होता है.’

मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस के नेताओं को याद होना चाहिए कि सरकार देश के लिए होती है न कि किसी एक पार्टी के लिए.’ बीजेपी नेता ने कथित ‘अहंकार’ के लिए सिंधिया को निशाना बनाया और इस कथित ‘अहंकार’ का कारण उनकी कांग्रेस के पुत्र (राहुल) से उनकी दोस्ती को बताया.

उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस के वर्तमान प्रत्याशी के लिए जितना कम कहा जाए, उतना अच्छा है. आपके सांसद के अहंकार का कारण उनकी दिल्ली में उसी पुत्र के साथ दोस्ती है. मैंने इतना अहंकारी व्यक्ति कभी नहीं देखा. हम सभी सार्वजनिक जीवन में हैं लेकिन उनका अहंकार आसमान को छूता है.’

सिंधिया के कथित अहंकार का उदाहरण देते हुए मोदी ने कहा कि बिजली मंत्री होने के नाते उन्हें ऊर्जा के क्षेत्र में अच्छा काम करने के लिए विभिनन राज्यों को पुरस्कार प्रदान करना था. जब उन्हें पता चला कि सभी अवार्ड गुजरात ने जीते हैं तो अचानक ही उन्होंने कार्यक्रम रद्द कर दिया और कोई कारण बताए बिना वापस चले गए.

मोदी ने आरोप लगाया, ‘कुछ माह पहले, बिजली मंत्रालय बिजली कंपनियों का मूल्यांकन कर रहा था. पुरस्कार समारोह होना था. लेकिन अचानक सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए गए. हम आश्चर्यचकित थे कि क्या हो गया. हमें पता चला कि गुजरात ने अवार्ड जीते हैं, इसलिए वह चले गए.’

मोदी ने कहा, ‘हमारे देश का संघीय ढांचा है और केन्द्र एवं राज्य सरकार इसी व्यवस्था के तहत मिलजुलकर देशहित में काम करती हैं, लेकिन केन्द्र की यूपीए सरकार ने भाजपा शासित राज्य सरकारों को अपने दुश्मन की तरह समझा और उनसे भेदभावपूर्ण व्यवहार किया.’

इस क्षेत्र की जनता से अपना भावनात्मक संबंध बताते हुए उन्होंने दिवंगत बीजेपी नेता विजयाराजे सिंधिया का जिक्र किया. उन्होने कहा कि राजमाता उस वक्त उनके लिए मातृवत दूध का ग्लास लेकर आई थीं, जब वह एक चुनाव अभियान में अपनी टीम के साथ थकेहारे, बिना भोजन किए सो गए थे.

मोदी ने लोगों से आग्रह किया कि वह केन्द्र में मजबूत सरकार बनाने के लिए बीजेपी को पूर्ण बहुमत दे, ताकि देश में बिना बैसाखी की सरकार कायम हो और देश को आंखें दिखाने वाले पड़ोसियों को भारत से आंख मिलाने के लिए मजबूर किया जा सके तथा देशवासियों का सम्पूर्ण विकास हो.

उन्होंने इस अवसर पर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की भी भरपूर तारीफ की. उन्होंने कहा कि चौहान ने अपनी मेहनत से इस प्रदेश को बीमारू प्रदेश के धब्बे से बाहर निकाला है.

(साभार-आजतक)

Leave a Reply