Tuesday, September 7, 2021

‘विकास निधि में हो रही कमीशनखोरी’

M.L.A Bite On Comisonलखनऊ।।(डीडीसी)।। यूपी में विधायकों की विकास निधि से भी कमीशनखोरी हो रही है। ये जानकर आप हैरान हो सकते हैं लेकिन ये हकीकत है। सदन से सड़क तक विधायक जांच की मांग कर रहे हैं । लेकिन सरकार की दलील कुछ और ही है। जो पैसे जनता के हित के लिए होते हैं, उनपर भी अब लूटखसोट की जा रही है। कुछ विधायकों का आरोप है कि जनता के पैसों की लूट हो रही है। और गड़बड़झाला कर अफसर मौज कर रहे हैं। जिस विकास निधि से शहर से लेकर गांव देहात में तरक्की की रोशनी की उम्मीद की जाती है उस विकास निधि में भी अफसरों को कमीशन चाहिए। ये हम नहीं कह रहे हैं बल्कि ये विधायकों का ही दर्द है।

विधानसभा से लेकर सड़क तक विधायकों का एक ही सुर है कि विकास के बजट से कमीशन बंद हो। कांग्रेसी विधायक पंकज मलिक ने सदन में ये मुद्दा उठाया तो कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष निर्मल खत्री ने इसे शर्मनाक बताया है। शामली से कांग्रेसी विधायक पंकज मलिक का आरोप है कि उनके ही विकास निधि से अफसर कमीशन ले रहे हैं और जनता विकास के पैसों का हिसाब चाहती है। ऐसे सबसे बड़ा सवाल ये है कि वो जवाब क्या दें ?  विकास निधि की हक़ीक़त से जनता अनजान नहीं है लेकिन नेता भी क्या करें जब सिस्टम ही ऐसा है कि कमीशन देना मर्ज को खत्म करने की मजबूरी लगती हो। लेकिन समाजवादी पार्टी के नेता और यूपी सरकार के मंत्री तो कुछ और ही कह रहे हैं।3/1/2013 1:00 PM

मंत्री के जवाब पर बीजेपी नेता विजय बहादुर पाठक ने सरकार की मंशा पर सवाल उठाया है। क्या कहा विजय बहादुर पाठक ने आप खुद सुन लीजिए। अब सवाल ये है कि जब विकास निधि पर ही सियासत हो रही है तो विकास कहा से होगा। लेकिन असली मुद्दा तो ये है कि क्या सरकार इन आरोपों की जांच करवाएगी। (एजेंसी)

 

 

Leave a Reply