Thursday, September 9, 2021

सीएम अखिलेश यादव ने स्मृति ईरानी को लिखा लेटर

smलखनऊ।। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मानव संसाधन विकास मंत्री (एचआरडी) स्मृति ईरानी को लेटर लिखा है। मुख्यमंत्री ने इसमें डिग्री कॉलेजों से लेकर उच्च‍ शिक्षण संस्थानों में संसाधनों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने को कहा है। सीएम ने लिखा है कि राष्‍ट्रीय मू्ल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद के क्षेत्रीय कार्यालय प्रदेश में स्थापित किए जाएं। नैशनल असेसमेंट एंड एक्रीडिटेशन काउंसिल (NAAC) के कार्यालय बैंगलोर में स्थापित होने से राष्ट्रीय स्तर पर जरूरी काम नहीं हो पा रहे हैं।

यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (UGC) के उच्च‍ शिक्षण संस्थानों को NAAC से मू्ल्यांकन कराना अनिवार्य कर दि‍या गया है। इसको लेकर UGC ने पहले ही स्‍पष्‍ट कर रखा है कि मू्ल्यांकन में खामी पाए जाने वाले शिक्षण संस्थानों को कोई भी अनुदान नहीं दि‍या जाएगा। UGC के इस आदेश के बाद प्रदेश में डिग्री कॉलेजों से लेकर यूनिवर्सिटी में नैक से मू्ल्यांकन कराने के प्रयास तेज कर दि‍या गए हैं।

इसको देखते हुए सीएम अखिलेश यादव ने HRD मिनिस्टर को लेटर लिख कर क्षेत्रीय कार्यालय यूपी में स्थापित करने की मांग की है। पत्र में सीएम ने कहा है कि दूरी की वजह से जरूरी कार्य तेजी से नहीं हो पा रहे हैं। ऐसे में राष्‍ट्रीय स्‍तर के मानकों का पालन नहीं हो पा रहा है।

380 शिक्षण संस्थाएं ही प्रदेश में मूल्‍यांकि‍त

प्रदेश में स्थापित 4250 शासकीय, अशासकीय और निजी कॉलेज संचालित हैं। इनमें से महज 380 ही नैक से मूल्यांकित हैं। इनमें तीन स्टेट यूनिवर्सिटी, 29 राजकीय डिग्री कॉलेज, 105 अशासकीय अनुदानित डिग्री कॉलेज और 243 निजी कॉलेज मूल्यांकित हो चुके हैं। बाकी के मू्ल्यांकन को लेकर उच्च‍ शि‍क्षा विभाग प्रयासरत हैं।

FILE PHOTO: HRD Minister Smriti Irani