Friday, September 3, 2021

सीएम की ये तकनीकि रखेगी बदमाशों पर तिरछी नजर

fo2अपराधियों पर लगाम लगाएगी नई तकनीकि।

बायोलॉजी, सिरोलॉजी, रसायन, विस्फोटक, नार्कोटिक से होगी जांच।

लखनऊ (अखिलेश कृष्ण मोहन)।। अपराधियों पर अब पुलिस विभाग की नई तकनीकि लगाम लगाएगी। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखनऊ में आठ फॉरेंसिक वैंस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि शातिर अपराधियों को पकड़ने में अब आसानी होगी, क्योंकि इनमें बायोलॉजी, सिरोलॉजी, रसायन, विस्फोटक, नार्कोटिक, आग्नेयास्त्र इत्यादि से संबंधित प्रारम्भिक परीक्षणों की सुविधा उपलब्ध है। इन फॉरेंसिक वैंस व वैज्ञानिकों के सहयोग से मौके पर साक्ष्यों का एकत्रण तथा घटनास्थल का प्रबन्धन सफलता से किया जा सकेगा।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सोमवार को अपने सरकारी आवास से आठ मोबाइल फॉरेंसिक वैंस को हरी झंडी दिखाकर रवाना कर रहे थे। पहले चरण में ये वैंस आठ ज़ोनों-लखनऊ, आगरा, कानपुर, गोरखपुर, इलाहाबाद, वाराणसी, मेरठ और बरेली में भेजी गई हैं। दूसरे चरण में 67 जिलों में भी मोबाइल फॉरेंसिक वैन सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी। वैंस को हरी झंडी दिखाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की समाजवादी सरकार कानून व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है। प्रदेश सरकार अपराधों को नियंत्रित करने के लिए लगातार अत्याधुनिक तकनीक का प्रयोग करने के प्रयास कर रही है। इसी उद्देश्य से प्रदेश में अब तक कानपुर तथा लखनऊ में अत्याधुनिक कन्ट्रोल रूम स्थापित किए जा चुके हैं। अपराधों पर प्रभावी नियंत्रण तथा होने वाली घटनाओं पर तेजी से कार्रवाई के लिए आधुनिक तकनीकी साधनों से पुलिस को लैस करना समय की आवश्यकता है।

फोटोः अपराधियों पर लगाम लगाने वाली नई तकनीकि का निरीक्षण करते हुए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।