Saturday, September 4, 2021

21 जून :- आज रात होगी सबसे छोटी, कल से दिन भी होने लगेंगे छोटे, जानिये वजह…

कल यानी शनिवार से दिन धीरे-धीरे छोटे और रातें बड़ी होने लगेंगी। मध्यप्रदेश के उज्जैन स्थित शासकीय जीवाजी वेधशाला ने बताया कि आज यानी 21 जून को सूर्य अपने अधिकतम उत्तरी बिंदु कर्क रेखा पर मौजूद होता है, जिससे उत्तरी गोलार्ध में दिन सबसे बड़ा और रात सबसे छोटी होती है। 21 जून के बाद से सूर्य दक्षिण की ओर गति करना शुरू कर देगा। इसे दक्षिणायन का प्रारंभ कहा जाता है। यही कारण है कि कल से दिन क्रमशः छोटे होते जाएंगे।  

वेधशाला की ओर से यह भी बताया गया कि 23 सितंबर को दिन-रात बराबर होंगे। 21-22 जून को उज्जैन में सुर्योदय सुबह 5.42 बजे और सूयार्स्त शाम 7.16 बजे होगा। 21 जून को दिन सबसे बड़ा 13 घंटे 34 मिनज जबकि रात 10 घंटे 26 मिनट की होगी। आज दोपहर 12 बजकर 28 मिनट पर लोग शंकु यंत्र के माध्यम से परछाई को गायब होते देख सकेंगे। वेधशाला में ही इस घटना को देखने की व्‍यवस्‍था की गई है।

बता दें कि उज्जैन कर्क रेखा के नजदीक स्थित है, इसलिये 21 एवं 22 जून को दोपहर 12 बजकर 28 मिनिट पर सूर्य की किरणें लंबवत पड़ने की वजह से परछाई नहीं दिखाई देगी। इसके उलट 22 दिसंबर को साल का सबसे छोटा दिन होता है। इस दिन सूर्य की किरणें धरती पर कम समय के लिए पड़ती हैं। 22 दिसंबर के दिन से सूर्य दक्षिणायन से उत्‍तरायण में प्रवेश करता है।