Saturday, August 28, 2021

5 बार विधायक रहा अखिलेश का करीबी ये नेता, शिवपाल की पार्टी में हो सकता है शामिल !

कानपुर। समाजवादी पार्टी में लंबे समय तक अनुसूचित जाति वर्ग का प्रमुख चेहरा रहे पूर्व मंत्री शिवकुमार बेरिया निकट भविष्य में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के मंच पर खड़े नजर आ सकते हैं।

शिवपाल यादव

शिवपाल यादव के साथ रहे उनके रिश्तों को देखते हुए राजनीतिक गलियारों में यही चर्चा है, लेकिन सियासत की नई राह पर बेरिया फूंक-फूंक कर कदम उठाना चाहते हैं।

5 बार विधायक रहे शिवकुमार बेरिया की गिनती सपा के कद्दावर नेताओं में थी। वर्ष 2012 में मुख्यमंत्री रहते अखिलेश यादव ने उन्हें अपनी कैबिनेट में मंत्री भी बनाया था। पिछले दिनों खजांचीनाथ के जन्मदिन से विवाद खड़ा हुआ और पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर प्रदेशाध्यक्ष नरेश उत्तम ने बेरिया को छह साल के लिए सपा से निष्कासित कर दिया।

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के करीबी रहे पूर्व मंत्री शिवकुमार बेरिया के रिश्ते शिवपाल यादव से भी अच्छे थे। लिहाजा तुरंत ही कयास शुरू हो गए कि साइकिल से उतारे गए बेरिया अब पैदल हो गए हैं तो शिवपाल की नई पार्टी प्रसपा को बेहतर विकल्प मान सकते हैं।

माना जा रहा था कि नौ दिसंबर को लखनऊ में आयोजित रैली के मंच पर ही वह शिवपाल के दल में शामिल हो सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक, वह उनसे संपर्क में भी हैं। मगर, पूर्व मंत्री बेरिया की कसरत को देखते हुए लग रहा है कि नौ दिसंबर को तो शामिल नहीं होंगे।

वहीं पूर्व मंत्री शिवकुमार बेरिया का कहना है कि सपा से निष्कासन के बाद वह कार्यकर्ताओं के बीच जा ही नहीं पाए हैं। अपने समर्थक कार्यकर्ताओं का मन टटोलेंगे। शिवपाल यादव के साथ जाना है, किसी और दल में शाामिल होना है या राजनीति छोड़ समाजसेवा करनी है, यह फैसला कार्यकर्ताओं की सलाह पर ही लेंगे।