Tuesday, September 7, 2021

अल्पेश ठाकोर का सिर कलम करने वाले को 1 करोड़ रुपए ईनाम की घोषणा !

बहराइच। गुजरात में उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों से मारपीट कर उन्हें भगाने के मामले से चर्चा में आए कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर के खिलाफ उत्तर प्रदेश के लोगों का गुस्सा चरम पर है। गुस्सा इतना तेज की उनका सिर कलम करने वाले को एक करोड़ रुपया ईनाम देने की घोषण कर दी गई है।

अल्पेश ठाकोर का सिर कलम करने वाले को 1 करोड़ रुपए ईनाम की घोषणा !

बहराइच में ‘महारानी पद्मावती यूथ ब्रिगेड’ नामक संगठन ने अल्पेश ठाकोर का सिर कलम करने वाले को एक करोड़ रुपये का इनाम देने संबंधी पोस्टर सार्वजनिक स्थानों पर चस्पा किए हैं। इस तरह से पोस्टर शहर में लगते ही पुलिस महकमे में खलबली मच गई। त्यौहार के मौसम में किसी अप्रिय घटना को टालने की तैयारी में लगी पुलिस ने तत्काल ही सभी जगह पर चस्पा इस तरह के पोस्टर्स को हटा दिया है। इसके साथ ही अशांति फैलाने वाले असामाजिक तत्वों के खिलाफ कार्रवाई भी करने का मन बना लिया है।

खुद को ‘महारानी पद्मावती यूथ ब्रिगेड’ खुद को ब्रिगेड का राष्ट्रीय अध्यक्ष बताने वाले भवानी ठाकुर ने बताया कि ठाकोर और उनके साथी राक्षसी प्रकृति के हैं। यह लोग वहां पर दबे-कुचले गरीब मजदूरों से मारपीट कर कायरता दिखा रहे हैं। ठाकोर तथा उसके साथी लोग देश तोडऩे का काम कर रहे हैं और इसके विरोध में सभी को एकजुट हो जाना चाहिए। भवानी ठाकुर ने कहा कि उन्होंने ठाकोर के सिर पर एक करोड़ रुपये का ईनाम रखा है। बहराइच में इसके लिए जगह-जगह पोस्टर लगाए हैं। अगर ठाकोर गुजरात से बाहर नहीं निकलेंगे तो लोग गुजरात पहुंच कर उनका सिर काट लाएंगे।

बहराइच में अपर पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप सिंह ने बताया बहराइच में ऐसे पोस्टर चस्पा होने की बात सोशल मीडिया पर आ रही है। जिसे गम्भीरता से लिया गया है। उपद्रवी तथा असामाजिक तत्वों को अशांति फैलाने से रोकने को हम कटिबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि ठाकोर के संबंध में की जा रही ऐसी टिप्पणी किसी भी तरह वैधानिक नहीं कही जा सकती। समाज में वैमनस्यता न फैलने पाए, इसलिए सभी थानों से ऐसे पोस्टर हटाने को कहा गया है। इसके साथ ही पोस्टर लगाने वालों को रोककर उनसे पूछताछ करने के निर्देश दिए गए हैं।

बहराइच में पुलिस के लिए विधायक का सिर कलम करने का पोस्टर काफी बड़ा सिरदर्द बना है। पोस्टर महारानी पदमावत यूथ बिग्रेड संगठन की ओर से चस्पा किया जा रहा है। फिलहाल पोस्टर लगाने वाले पुलिस पकड़ से दूर हैं। पोस्टर लगाने जाने के विरोध में कांग्रेसियों में उबाल हैं। पुलिस भी परेशान है कि पोस्टर कौन लगवा रहा है और कहां से आ रहा है।