Monday, September 6, 2021

हिरोइनों को भी Bigg Boss में मिल सकती है ट्रेनिंग

abhishek-yadav-abhi-Bigg-Boलखनऊ ।। लड़कियों की सुरक्षा को लेकर एक नया कीर्तिमान बनाने वाले स्पेशल कमांडो टेक्निक के शहंशाह अभिषेक यादव अभी का Bigg Boss में जाना तय माना जा रहा है। उन्हें यूपी के करोड़ों युवा Bigg Boss में देखना चाहते हैं। सबसे बड़े प्रदेश में महिला सुरक्षा की निःशुल्क ट्रेनिंग दे रहे अभिषेक यादव अभी को लेकर यह माना जा रहा है कि Bigg Boss में जाने से वह बॉलीवुड और हॉलीवुड की हिरोइनों को भी मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग दे सकते हैं। क्योंकि अभिषेक यादव की स्पेशल कमांडो ट्रेनिंग आत्म रक्षा को लेकर हर किसी के लिए जरूरी है, यह इस रियलिटी शो को ग्लैमराइज भी करेगा। यह भी माना जा रहा है कि अभिषेक की बिग बॉस में इंट्री से कहीं न कहीं निर्भया कांड का मुद्दा भी उठेगा, क्यों कि निर्भया कांड के बाद से ही उन्होंने लड़कियों और महिलाओं को भी ट्रेनिंग देने का बड़ा कदम उठाया था।

दारू की भट्ठी से तेज दहकती है अभिषेक से सीने में आग

abhishek yadav abhi finalअभिषेक यादव अभी से यह पूछने पर कि उन्होंने कमांडो ट्रेनिंग की जरूरत कब महसूस की। इसको लेकर वह बताते हैं कि उनका गांव गोरखपुर के मोहनापुर में है। वहां पर दारू की सैकड़ों भट्ठियां उस समय होती थीं। लोग दारू पीते थे और महिलाओं-लड़कियों पर कमेंट करते थे। वह एक दूसरे की भी पिटाई भी करते थे। इससे गांव का महौल खराब होता था, यह देखकर बहुत गुस्सा आता था। वहां पर दारू की भट्ठी में जिस तरीके से आग दहकती थी, उसी तरह उसे देखकर सीने में आग धधक जाती थी।

अभिषेक आगे बताते हैं कि उस समय हालात ऐसे थे कि कुछ कर नहीं सकते थे, इस लिए सोचा कि ऐसा खेल पकड़ा जाए कि जिससे दूसरों को सबक सिखाया जा सके, फिर क्या मार्शल आर्ट का सहारा लिया और जैसे ही दारू के पियक्कड़ों को बताया जाता कि मार्शल आर्ट से हूं, वह फरार हो जाते थे। इसकी वजह से मार्शल आर्ट की कला जरूरत बन गई।

बदमाशों ने करवा दिया था जानलेवा हमला

अभिषेक यादव बताते हैं कि उन्होंने कभी भी किसी का नुकसान नहीं किया। हमेशा सुरक्षा की ट्रेनिंग देते हैं, लेकिन बाद में जब कई अवार्ड और रिकॉर्ड जीतने के बाद उन्हें यशभारती के लिए नामित किया गया तो उनके ऊपर जानलेवा हमला किया गया। गोरखपुर में 2014 सितंबर में वह चौरीचौरा इलाके में अपने एक साथी को लेकर कार से आ रहे थे। वह गाड़ी चला रहे थे, इसी दौरान तीन लोगों ने कार पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इस दौरान वह निहत्थे थे। उन्होंने गाड़ी की रफ्तार तेज कर दी और गोलियां गाड़ी पर बरसती रहीं। हालांकि इसके बाद केस दर्ज हुआ था और दो लोग गिरफ्तार भी हुए थे।

उपलब्धियां से भरा है अभिषेक का सूटकेस

जिसने समाज को निःशुल्क ट्रेनिंग देने का बीड़ा उठाया है, वह उपलब्धियों का मोहताज हो ही नहीं सकता। यही हाल अभिषेक यादव अभी का भी है। यूपी में 50 हजार पुलिसकर्मियों को वह ट्रेनिंग दे चुके हैं। लगभग पूरे प्रदेश में डेढ़ लाख छात्राओं को उन्होंने सेल्फ डिफेंस की स्पेशल कमांडो ट्रेनिंग दी। इसके साथ ही साथ वह यूपी में महिला सुरक्षा और सम्मान को लेकर लगातार काम करते रहे हैं। यह काम भी पूरी तरह से निःशुल्क है। गोरखपुर में वह छह साल पहले से ही थानाध्यक्षों को ट्रेनिंग देते रहे हैं। उनके इस जोश, जज्बे और कौशल को देखते हुए यूपी सरकार ने उन्हें यशभारती पुरस्कार से वर्ष 2015 में सम्मानित किया।

विदेशों में भी अभिषेक ने गाड़े हैं झंडे

अभिषेक यादव अभी ने अपने देश में ही नहीं, विदेशों में भी ट्रेनिंग दी है। उन्होंने नेपाल में ट्रेनिंग दी है। श्रीलंका में प्रथम साउथ एशिया का कंप्टीशन था। इसमें एनएसजी हेड के रूप में 2012 में वह कैप्टन बने। पायगाला में जुलाई 2012 में पहली बार प्रथम साउथ एशिया ओपन चैलेंज प्रतियोगिता उन्होंने जीती थी। इसमें उन्हें बेस्ट फाइटर की ट्रॉफी दी गई थी। वह बताते हैं कि इंडिया में ओपन चैलेंज की मान्यता नहीं है। दिसंबर के ही 2012 में अंतर्राष्ट्रीय ओपन चैलेंज प्रतियोगिता भूटान में हुई थी। इसमें उन्हें गोल्ड मेडल मिला था। कुछ छह विश्व रिकॉर्ड बनाने वाले अभिषेक यादव अभी ने हाल ही में इटावा में 1800 लड़कियों को ट्रेनिंग देकर लौटे हैं। इसके लिए वह एसएमजीआई ग्रुप के बड़े अधिकारी विवेक यादव का आभार मानते हैं। अभिषेक कहते हैं कि स्कूली लड़कियों को मार्शल आर्ट के प्रशिक्षण से समाज को एक नई दिशा मिलेगी। इस दिशा में विवेक ने अच्छा काम किया। प्रशिक्षण प्राप्त कर छात्राएं आत्मरक्षा में सक्षम होंगी। वह चाहते हैं कि हर लड़की आत्मरक्षा में इतनी सक्षम हो कि मुसीबत पड़ने पर तीन-चार लड़कों का मुकाबला वह कर सके।

नोटः अभिषेक यादव अभी Bigg Boss में होंगे, यह खबर इंडिया ही नहीं अमेरिका में भी गूंज रही है। एक प्रतिष्ठित अमेरिकन वेबसाइट ने इसे प्रमुखता से छापा है। इसे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।