Saturday, August 28, 2021

करवाचौथ पर तिरंगे में लिपटकर आएगा बृजेश, पत्नी श्वेता का बुरा हॉल !

New Delhi. जिस सुहाग की लंबी उम्र के लिए श्वेता तैयारियों में जुटी थी, करवाचौथ पर उसके शहीद पति बृजेश की पार्थिव देह तिरंगे में लिपटकर घर आएगी। दक्षिण कश्मीर के बारामुला जिले में आतंकी मुठभेड़ में सैनिक बृजेश शर्मा के शहीद होने से पूरा परिवार बेहाल है।

करवाचौथ

बृजेश की माता धुरवी देवी जहां बेसुध हालत में है, वहीं पत्नी श्वेता बदहवास है। शहीद की पांच वर्षीय मासूम बेटी कनिका हर किसी से रोते हुए यही पूछती रही कि पापा को क्या हुआ है।

किसी की हिम्मत नहीं थी कि बिटिया को यह बता सकें कि उसके पापा देश की रक्षा करते हुए शहीद हो गए हैं। श्वेता ने अपने पति की लंबी उम्र के लिए करवाचौथ के व्रत की तैयारियां कर रखी थीं। जिसे लेकर बेटी भी उत्साहित थी।

बृजेश कुमार की खबर सुनकर हर कोई स्तब्ध

पंचायत धुंदला के गांव ननावीं के स्वर्गीय धर्मचंद शर्मा के वीर सपूत बृजेश कुमार की खबर सुनकर हर कोई स्तब्ध है। परिजनों ने बताया कि दसवीं की परीक्षा पास करने के उपरांत देश सेवा की ललक के चलते बृजेश सेना में अपनी सेवाएं देने के लिए प्रयासरत रहा।

वर्ष 2003 में 14 पंजाब रेजीमेंट में भर्ती हो गया। इसी दौरान बृजेश ने डीईपी का डिप्लोमा भी किया। बृजेश की शादी श्वेता निवासी अमरेहड़ा के साथ 2009 में साथ हुई थी। बृजेश के पिता की पहले ही मृत्यु हो चुकी है।