Monday, August 30, 2021

बुलंदशहर हिंसा: जीतू फौजी से STF ने पूछे 70 सवाल, जानें क्या मिला जवाब !

बुलंदशहर. उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में हुई हिंसा और इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या के मामले में जीतू फौजी से पुलिस ने 70 से अधिक सवाल पूछे। इसमें जीतू के छुट्टी पर आने, जाने, घटनास्थल पर मौजूदगी समेत अन्य बिंदुओं पर सवाल शामिल किए गए।

जीतू फौजी

हालांकि अधिकांश सवालों के जवाब में आरोपी जीतू ने पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया। जीतू के गलत जवाब दिए जाने से पुलिस का शक उस पर गहराता चला गया।

सूत्रों के अनुसार पुलिस ने घटना के बाद ही जीतू का नाम सामने आने पर उसके मोबाइल की कॉल डिटेल रिकार्ड निकलवा लिया था। कॉल डिटेल रिकार्ड के आधार पर जीतू की घटनास्थल पर मौजूद रहने का वक्त, उसके वहां से कहां-कहां जाने और फिर जम्मू पहुंचने के बारे में पूरी जानकारी जुटाई गई। इसी आधार पर जीतू से पूछे जाने वाले सवाल निर्धारित किए गए।

अधिकांश सवालों का जवाब दिया ‘गलत’

कॉल डिटेल रिकार्ड निकलवाए जाने से अंजान जीतू से रविवार को सवाल पूछे गए तो जीतू ने उनका जवाब दिया, किंतु अधिकांश सवालों का जवाब गलत दिया। सूत्रों के अनुसार जीतू ने घटनास्थल पर कुछ देर ही मौजूद होने की बात बताई, किंतु कॉल डिटेल रिकार्ड में उसकी मौजूदगी काफी देर तक घटनास्थल पर मिली है।

इसी तरह हिंसा के बाद आरोपी जीतू की लोकेशन उसके गांव महाव और फिर बीबीनगर मिली है। वहां से जीतू दिल्ली होते हुए जम्मू पहुंचा है। आरोपी जीतू ने पूछताछ में लोकेशन की कई जगहों को भी नकार दिया है। ऐसे में पूछताछ में जुटे पुलिस अधिकारियों का शक उस पर गहरा रहा है।

पुलिस अधिकारियों का मानना है कि किसी न किसी राज को जीतू छिपा रहा है। ऐसे में पुलिस कस्टडी रिमांड पर ही जीतू से गहन पूछताछ कर उसकी संलिप्तता का पता लगाया जा सकेगा।

8 दिसंबर को जीतू की शादी की सालगिराह

पुलिस की जांच में पता चला है कि जीतू की 8 दिसंबर को शादी की चौथी वर्षगांठ थी। बताया जाता है कि इसके चलते आरोपी जीतू ने 18 नवंबर से 17 दिसंबर तक की छुट्टी ली थी, ताकि बहन की शादी के अलावा शादी की वर्षगांठ भी मना सके। अचानक उसने छुट्टी की अवधि कम करा दी। हालांकि पुलिस अधिकारी अभी जीतू की छुट्टी का रिकॉर्ड न मिल जाने तक कुछ पुष्टि करने से बच रहे हैं।