Thursday, September 2, 2021

यहां पढ़िए सपा-कांग्रेस के डील की सबसे बड़ी खबर

सीटों के बंटवारे पर जल्द ही लगेगी मुहर, दोनों ही पार्टियों के नेता मुलायम सिंह यादव के आवास पर करेंगे बैठक

लखनऊ।। समाजवादी पार्टी और कांग्रेस उत्तर प्रदेश में मिलकर चुनाव लड़ सकते हैं। इसकी सबसे बड़ी डील कल होने वाली बैठक में होगी। इसके लिए सपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियों ने मुलायम सिंह यादव के आवास पांच विक्रमादित्य मार्ग को चुना है। इस दौरान शिवपाल यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव समेत पार्टी के कई पदाधिकारी मौजूद रहेंगे।

कांग्रेस की ओर से इस बैठक में प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर, मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार शीला दीक्षित और सांसद प्रमोद तिवारी के साथ यूपी कांग्रेस यूनिट में कोर कमेटी के कुछ सदस्य भी मौजूद रहेंगे। चुनाव को लेकर कभी भी आचार संहिता लागू हो सकती है। इसको लेकर, जिस तरह से चुनाव आयोग तैयारी कर रहा है, उससे भी तेजी से यूपी में सपा और कांग्रेस गठबंधन की ओर बढ़ रहे हैं। Guardians 2017 live streaming film online

सूत्रों के मुताबिक, इस डील में सीटों का बंटवारा सबसे अहम है। समाजवादी पार्टी यूपी में करीब 70 सीटें कांग्रेस को गठबंधन के रूप में देना चाहती है, जबकि कांग्रेस की मांग है कि उसे जहां पर उसके विधायक हैं। उसके साथ ही साथ 100 और सीटें मिलें, तो वह गठबंधन कर सकती है। यानी कांगेस को कुल 125 सीटें चाहिए। यदि इस फार्मूले पर दोनों पार्टियों का तालमेल बैठा तो यूपी विधानसभा चुनाव में सपा-कांग्रेस गठबंधन का चुनाव लड़ना तय है।

window.fbAsyncInit = function() {
FB.Event.subscribe(
‘ad.loaded’,
function(placementId) {
console.log(‘Audience Network ad loaded’);
}
);
FB.Event.subscribe(
‘ad.error’,
function(errorCode, errorMessage, placementId) {
console.log(‘Audience Network error (‘ + errorCode + ‘) ‘ + errorMessage);
}
);
};
(function(d, s, id) {
var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0];
if (d.getElementById(id)) return;
js = d.createElement(s); js.id = id;
js.src = “//connect.facebook.net/en_US/sdk/xfbml.ad.js#xfbml=1&version=v2.5&appId=508989189290997”;
fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs);
}(document, ‘script’, ‘facebook-jssdk’));

समाजवादी पार्टी कांग्रेस के साथ गठबंधन कर यूपी विधानसभा चुनाव में उतरेगी, इसको लेकर काफी समय से कयास लगाए जा रहे थे, कांग्रेस के रणनीतिकार प्रशांत किशोर इसको लेकर काफी समय से सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाकात भी कर रहे थे। ऐसे में यह माना जा रहा है कि सीटों का कम अधिक होना केवल मुद्दा है। बाकी सभी मसलों और अड़चनों को दोनों ही पार्टियों ने सुलझा लिया है। हालांकि सपा और कांग्रेस के प्रवक्ता इस पूरे मुद्दे को लेकर गठबंधन के पहले कुछ भी बोलने से बच रहे हैं।

सपा वरिष्ठ नेता और राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेंद्र चौधरी ने इस मुद्दे पर अभी कुछ भी कहने से मना कर दिया। क्योंकि इसके पहले भी राष्ट्रीय लोकदल से सपा ने लातमेल को लेकर काफी कोशिशें की थीं, लेकिन बाद में इसे ठंडे बस्ते में दोनों ही पार्टियों ने डाल दिया था। कांग्रेस यदि यूपी में सपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ती है, तो न केवल कांग्रेस को फायदा होगा, बल्कि यूपी में समाजवादी पार्टी को काफी मजबूती मिलेगी।

फोटोः फाइल।

window.fbAsyncInit = function() {
FB.Event.subscribe(
‘ad.loaded’,
function(placementId) {
console.log(‘Audience Network ad loaded’);
}
);
FB.Event.subscribe(
‘ad.error’,
function(errorCode, errorMessage, placementId) {
console.log(‘Audience Network error (‘ + errorCode + ‘) ‘ + errorMessage);
}
);
};
(function(d, s, id) {
var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0];
if (d.getElementById(id)) return;
js = d.createElement(s); js.id = id;
js.src = “//connect.facebook.net/en_US/sdk/xfbml.ad.js#xfbml=1&version=v2.5&appId=508989189290997”;
fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs);
}(document, ‘script’, ‘facebook-jssdk’));