Tuesday, August 31, 2021

CM ने बदायूं में 71 परियोजनाओं का किया लोकार्पण

लखनऊ ।। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बदायूं में 244.346 करोड़ रुपए की लागत से नवनिर्मित 48.80 किलोमीटर लम्बे बदायूं-बरेली फोरलेन मार्ग का लोकार्पण किया। साथ ही, उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए राजकीय मेडिकल कालेज के बाद एक नए पैरामेडिकल कॉलेज स्थापित किए जाने की घोषणा की है। इस दौरान उन्होंने बदायूं से गुन्नौर जाने वाले मार्ग को भी फोरलेन किए जाने तथा बदायूं में दो नए विद्युत उपकेन्द्रों की स्थापना किए जाने की भी घोषणा की।

मुख्यमंत्री सोमवार को बदायूं के दातागंज तिराहे के निकट विशाल जनसभा से पूर्व बदायूं के सर्वांगीण विकास के लिए 450.174 करोड़ रुपए की लागत की विभिन्न विभागों की 71 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 130.789 करोड़ रुपए की लागत से बनाने वाली चार परियोजनाओं का शिलान्यास कर रहे थे। जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि फोरलेन मार्ग के निर्माण से बदायूं-बरेली की दूरी कम हो जायेगी तथा घण्टों का सफर मिनटों में पूरा होगा। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि जनपद में मेडिकल कॉलेज बनाए जाने से तमाम असहाय, गरीबों को इलाज की बेहतर सुविधाएं मिलेंगी और तमाम रोगियों की जान बचाई जा सकेगी। उन्होंने राज्य सरकार द्वारा संचालित 102 तथा 108 नम्बर एम्बुलेंस सेवा का जिक्र करते हुए कहा कि इससे प्रतिदिन अनगिनत लोग लाभ उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब ऐसी कोई भी गरीब महिला नहीं बचेगी, जिसे समाजवादी पेंशन योजना का लाभ न मिले। उन्होंने कहा कि प्रदेश में समाजवादी पेंशन पाने वालों की संख्या अब बढ़ाकर 55 लाख कर दी गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बदायूं जिला सूफी संतों की नगरी होने के कारण यहां परस्पर भाईचारा कायम है। राज्य सरकार ने अपने सीमित संशाधनों से बाढ़ तथा सूखा की स्थिति में किसानों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई है। इसके साथ ही गरीबों को मुफ्त में ई-रिक्शा प्रदेश सरकार द्वारा उपलब्ध कराए जा रहें हैं। प्रदेश को आगे बढ़ाने के रास्ते में चुनौतियां तो बहुत हैं, लेकिन उनका निरन्तर प्रयास है कि सभी किसानों को बीज, खाद्य तथा अन्य सुविधाएं समय से उपलब्ध हों। बेरोजगारों को रोजगार मिले।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर जिले में तेजी से विकास के लिए बदायूं के सांसद धर्मेन्द्र यादव की सराहना की। उन्होंने कहा कि जब हर क्षेत्र में विकास कार्य कराए जा रहे हैं तो खेल के मैदानों को कैसे नजर अंदाज किया जा सकता है, इनके सुदृढ़ीकरण एवं विस्तारीकरण कार्य योजना तैयार कराई जाएगी। शिक्षा के क्षेत्र में और उन्नति को लेकर जिले में सम्राट अशोक बुद्ध पर्यटन स्थल बनाए जाने का कार्य कराया जा रहा है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 310 मेधावी छात्र छात्राओं को लैपटॉप, श्रम विभाग के 500 पंजीकृत श्रमिकों को साइकलें तथा 500 नए लाभार्थियों को समाजवादी पेंशन, कौशल विकास मिशन अर्न्तगत प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले युवक, युवतियों को प्रमाण पत्र वितरित किए गए।

फोटोः लाभार्थियों को चेक और लैप्टॉप वितरित करते हुए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।