Monday, September 6, 2021

भारत-नेपाल मैत्री बस सेवा को सीएम ने दिखाई हरी झंडी

फोटोः वाराणसी में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भारत-नेपाल मैत्री बस सेवा को हरी झंडी दिखाकर रवाना करते हुए।

लखनऊ।। डीडीसी न्यूज़ एजेंसी/अरविंद यादव ।। पर्यटकों को जल्द ही वाराणसी में मेट्रो में सफर करने को मिलेगा। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गुरुवार को वाराणसी में कहा कि सरकार सभी क्षेत्रों में विकास के लिए गंभीर है। यहां जल्द ही मेट्रो रेल की सौगात मिलेगी। लखनऊ के बाद वाराणसी सहित चार शहरों को मेट्रो रेल परियोजना काम करेगी। इसके लिए आगामी छह महीने में डीपीआर बनाने का कार्य पूरा कर लिया जाएगा। पर्यटकों को कोई असुविधा न हो, इसके लिए गंगा घाटों को 24 घंटे बिजली सप्लाई की जा रही है। इसी तर्ज पर अब सारनाथ को भी बिजली मिलेगी। उन्होंने आगे कहा कि वर्ष 2016 से गांवों को 16 घंटे एवं शहरों को 22 से 24 घंटे तक बिजली मिलेगी।

मुख्यमंत्री बुधवार को वाराणसी पुलिस लाइन मैदान में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इसमें भारत-नेपाल मैत्री बस सेवा की एक एवं किसान स्पेशल सेवा के रूप में लोहिया ग्रामीण बस सेवा की 10 बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि परिवहन यातायात को सुगम बनाने के लिए प्रदेश में चार लेन की सड़कों का जाल बिछाए जा रहे हैं। भदोही-मिर्जापुर मार्ग को भी चार लेन सीसी रोड बनाया जाएगा। साथ ही, वाराणसी-शक्ति नगर तक की रोड को चार-लेन किया जा रहा है, जो आगामी जुलाई तक चालू भी हो जाएगी। उन्होंने वाराणसी एवं मिर्जापुर में गंगा नदी पर निर्माणाधीन पुलों को शीघ्र पूरा करने के निर्देश देते हुए कहा कि इन पुलों के निर्माण में धन की कमी नहीं होने दी जाएगी।

लोहिया बस सेवा की भी हुई शुरुआत

सीएम भारत-नेपाल मैत्री बस के साथ-साथ बुधवार को लोहिया ग्रामीण बस सेवा की भी शुरुआत की। यह बस सेवा फिलहाल वाराणसी के अलावा जौनपुर, चंदवक, खेतासराय, जमालपुर, राजातालाब, गोपीगंज, ज्ञानपुर आदि स्थानों के लिए संचालित होगी। बस के अंदर दुधियों का बाल्टा और गेहूं आदि सामान रखने का स्थान बनाया गया है। अभी लोहिया ग्रामीण बस सेवा के किराए में 25 फीसदी की छूट रहेगी। समाजवादी रंग में रंगी बस के चारों ओर अखिलेश सरकार द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं का प्रचार-प्रसार भी किया है।

सीएम ने बांटे टूल किट

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कार्यक्रम में इंटर पास सौ मेधावी छात्र-छात्राओं को निशुल्क लैपटॉप, अनुसूचित जाति के 30 लाभार्थियों को समाजवादी पेंशन का पत्र, 100 श्रमिकों को साइकिल तथा कौशल विकास कार्यक्रम के तहत छह युवाओं को टूल किट्स वितरित किए। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि योजना की शुरुआत में विपक्षी दल इसकी काफी आलोचना करते थे, अब वही लोग वाई-फाई सेवा की बात करते हैं। यह सभी जानते हैं कि वाई-फाई सुविधा का लाभ लैपटॉप से ही उठाया जा सकता है। उनकी पार्टी ने जनता से जो वायदे किए थे, सरकार बनने के बाद उसे पूरा किया। सरकार के शेष बचे दो वर्ष के कार्यकाल में और भी विकास कार्य कराकर प्रदेश की जनता को राहत पहुंचाने का काम किया जाएगा।

पड़ोसी देशों से हों अच्छे रिश्ते

विदेशों से संबंध को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि उनकी सरकार पड़ोसियों से अच्छे संबंध की हिमायती है। काठमाण्डू एवं वाराणसी को जोड़ने वाली इस बस सेवा से जहां दोनों देशों के लोगों का आर्थिक एवं सामाजिक विकास होगा, वहीं पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि नेताजी के कार्यकाल में ही सोनौली का मार्ग खोला गया था और आज उनके द्वारा वाराणसी-नेपाल मैत्री बस सेवा की शुरुआत की गई है।

समाजवादी पेंशन देने वाला यूपी पहला राज्य

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने समाजवादी पेंशन योजना का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य है, जो अपने संसाधनों से इतने बड़े पैमाने पर आर्थिक मदद मुहैया कराने का काम कर रहा है।

सड़कें होती हैं तरक्की का आधार

मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़कें किसी प्रदेश की तरक्की का मुख्य आधार होती हैं। इसको ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने सभी मुख्य मार्गों को चार लेन में बदलने तथा ग्रामीण क्षेत्रों की सड़कों की मरम्मत कराने का कार्य शुरु किया है, जबकि उत्तर प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्गों की हालत काफी खराब है। राज्य सरकार द्वारा नौजवानों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए किए जा रहे प्रयासों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि आने वाले समय में बड़े पैमाने पर रोजगार उपलब्ध कराए जाएंगे। पुलिस भर्ती का परिणाम शीघ्र घोषित कर दिया जाएगा, इसके बाद पुलिस विभाग की दूसरी भर्ती शुरु कराई जाएगी।

फोटोः वाराणसी में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भारत-नेपाल मैत्री बस सेवा एवं लोहिया ग्रामीण बस सेवा को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करते हुए।