Saturday, September 4, 2021

जानिए निर्विरोध MLC नेताओं से क्यों नाराज हैं CM अखिलेश यादव

Akhilesh-Yadavलखनऊ (अखिलेश कृष्ण मोहन)।। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव निर्विरोध चुने गए एमएलसी नेताओं से काफी नाराज हैं। हाल ही में एमएलसी बनने के बाद जब कुछ नेता मुख्यमंत्री से मिलने के लिए उनके सरकारी आवास पांच कालीदास मार्ग गए, तो बिना मिले ही मुख्यमंत्री ने उन्हें वापस कर दिया।

विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, मुख्यमंत्री निर्विरोध चुने गए एमएलसी नेताओं से काफी नाराज हैं। इसकी वजह है उनकी लापरवाही और चुनाव के प्रति उदासीनता। निर्विरोध चुने गए नेताओं ने प्रदेश में बाकी अन्य उम्मीदवारों के चुनाव-प्रचार में सहयोग न कर सैर सपाटे में ही रुचि दिखाई है। कई नेता तो गोवा-मुंबई घूमने तक गए हैं। मुख्यमंत्री ने जब इन नेताओं के कहां पर होने और क्या करने की रिपोर्ट मांगवाई तो वह काफी चौकाने वाली थी। कोई भी नेता पार्टी के निर्देशों के अनुसार अन्य एमएलसी उम्मीदवार के जिताने के काम में नहीं दिखा।

मुख्यमंत्री ने गोपनीय रिपोर्ट से काफी नाराज होकर कुछ नेताओं को फोन पर डॉट भी लगाई थी। इसके साथ ही उन्होंने चुनाव के पहले किसी भी नेता से मिलने से इनकार कर दिया। अब चुनाव बाद इन नेताओं की क्लास लगाई जाएगी। मुख्यमंत्री कभी भी निर्विरोध चुने गए नेताओं को बुला सकते हैं। वह कहां किस नेता के समर्थन में प्रचार कर रहे थे, इसकी पोल उनके समाने ही खोली जा सकती है।

कहां से कौन हुए निर्विरोध निर्वाचित

गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी के आठ एमएलसी नेता निर्विरोध चुने गए हैं। इसकी सूची नीचे दी जा रही है।

1-सीतापुर- आनंद भदौरिया

2-लखनऊ-उन्नाव- सुनील सिंह साजन

3-प्रतापगढ़- अक्षय प्रताप सिंह

4-बांदा-हमीरपुर- रमेश चन्द्र मिश्र

5-आगरा-फीरोजाबाद- दिलीप सिंह

6-मथुरा-एटा- अरविन्द प्रताप

7-एटा-मैनपुरी- उदयवीर सिंह

8-मेरठ-गाजियाबाद- राकेश यादव

फोटो-फाइल