Wednesday, September 8, 2021

कांग्रेस के गढ़ अमेठी में सेंध लगाने में जुटी बीजेपी, बनाई ये रणनीति

अमेठी। कांग्रेस के लिए सबसे महफूज समझी जाने वाली अमेठी में भाजपा विकास का वास्ता देकर जोरदार सेंधमारी करने की तैयारी को अमलीजामा पहनाने में लगी हुई है। इसी कार्यक्रम के सिलसिले में कल केंद्रीय मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी ने लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भेंट भी की।

अमेठी

साढ़े चार वर्ष से अमेठी में कांग्रेसी किले की नींव को हिलाने में लगीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की बनाई पिच पर भाजपा के आधा दर्जन से अधिक मंत्री विकास की भगवा गेंद को खुलकर खेलते नजर आयेंगे। अमेठी के सियासी इतिहास में दूसरी बार कोई गैर कांग्रेसी सरकार एक साथ 70 करोड़ से अधिक लागत की करीब दर्जन भर परियोजनाओं की सौगात लेकर आ रही है।

80 दिन में तीसरी बार अमेठी आ रहीं स्मृति

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बीते 80 अस्सी दिनों में एक बार ही अपने संसदीय क्षेत्र में आये, जबकि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी 19 नवंबर को तीसरी बार अमेठी आ रहीं हैं। इससे पहले वह सात व एक सितंबर को अमेठी आईं थीं।

केंद्रीय वस्त्र मंत्री स्मृति ईरानी के साथ 19 नवंबर को प्रदेश के डिप्टी सीएम व कई मंत्री अमेठी पहुंचेंगे। यहां अमेठी के विकास के लिए 67 करोड़ से अधिक की परियोजना का शिलान्यास व लोकार्पण करेंगे। लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा कांग्रेस अध्यक्ष व स्थानीय सांसद के गढ़ को घेरने की तैयारी में जुट गई है। इसी कार्यक्रम के सिलसिले में कल केंद्रीय मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी ने लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भेंट भी की।

गौरीगंज जवाहर नवोदय विद्यालय में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, केंद्रीय राज्यमंत्री विजय सापला, उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, उर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, स्वास्थ्य राज्य मंत्री महेंद्र सिंह, सिंचाई, यांत्रिक एवं अल्पसंख्यक बलदेव सिंह औलख, जिला प्रभारी मंत्री मोहसिन रजा व राज्यमंत्री व्यवसायिक शिक्षा सुरेश पासी एक कार्यक्रम में शामिल होंगे। इस दौरान दिव्यांगों 990 एवं वरिष्ठ नागरिकों 502 को कृत्रिम उपकरण वितरित करेंगे। साथ ही फैजाबाद मंडल के तीन दिनी रोजगार मेले का शुभारंभ करेंगे। मेले में 50 से अधिक कंपनियां शामिल हो रही है।

इन परियोजनाओं को मिलेगा आधार

दिग्गज यहां 27 करोड़ 45 लाख रुपये की लागत से बनने वाली 49 सड़कों का शिलान्यास करेंगे। इसके अलावा 32 करोड़ 52 लाख 77 हजार की लागत से चार आइटीआइ भवन, एक करोड़ बीस लाख का सदभावना मंडप की आधारशिला रखेंगे। इसके साथ तीन करोड़ 72 लाख रुपये की लागत से बनकर तैयार हुए सत्थिन का 33 केवी बिजली घर एवं तीन करोड़ 13 लाख की लागत से बनकर तैयार दो पीएचसी भवन का लोकार्पण करेंगे। कार्यक्रम को लेकर युद्ध स्तर पर तैयारी की जा रही है। जिलाधिकारी शकुंतला गौतम ने बताया कि कार्यक्रम प्रस्तावित है। कई विभागों की परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण होना है। सभी को तैयारी पूरी करने का निर्देश दिया गया है।

-चार दर्जन से अधिक सड़कों का होगा शिलान्यास।

-चार आइटीआइ भवन की रखी जाएगी आधारशिला।

-जगदीशपुर में बनने वाले सदभावना मंडप की आधारशिला।

-सत्थिन पावर हाउस का लोकापर्ण।

-रोजगार मेले का आयोजन, 50 से अधिक कंपनियां होगी शामिल।

-दिव्यांग व वरिष्ठ नागरिकों को कृत्रिम उपकरण का वितरण।

-दो सौ इंडिया मार्का हैंडपंप की स्थापना की शुरूआत।

-दो प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों का लोकापर्ण।