Sunday, September 5, 2021

‘EOW में भी है कर्मचारियों की कमी’

resizedimage (20)लखनऊ।।(डीडीसी न्यूज़ नेटवर्क)।। अपराध पर लगाम लगाने और अपराधियों को पकड़ने का काम करने वाली यूपी पुलिस की ईओडब्ल्यू शाखा को भले ही कम लोग जानते हैं लेकिन ये शाखा अपना काम बखूबी कर रही है। यही वजह है कि विभाग में अफ़सरों की संख्या कम होने के बाद भी ईओडब्ल्यू बेहतर तरीके से काम कर रही है। यूपी में ईओडब्ल्यू की जांच ने बड़े बड़े अफसरों और नेताओं की बोलती बंद कर दी है। पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के राज में बने पार्कों और स्मारकों का घोटाला हो, सलमान खुर्शीद के ट्रस्ट का घोटाला हो या लैक्फेड घपले की जांच सभी को ईओडब्ल्यू ने गंभीरता से लिया है। लेकिन ये हकीकत है कि ईओडब्ल्यू खुद किसी मामले की जांच नहीं कर सकता बल्कि उसे सरकार मामलों को जांच के लिए रिफर करती है। ईओडब्ल्यू में कर्मचारियों की कमी का हमेशा आरोप लगता रहा है यही वजह है कि कई मामलों में जांच में देरी भी होती रही है। ईओडब्ल्यू दस से अधिक विभागों के मामलों की जांच कर सकती है। ईओडब्ल्यू प्रदेश के एक दर्जन से अधिक बड़े मामलों की जांच कर रहा है। ऐसे में बेहतर रिजल्ट के लिए सरकार को कर्मचारियों की संख्या और तैनाती का भी ध्यान रखना होगा तभी सही समय पर जांच पूरी हो सकेगी।

 

 

Leave a Reply