Thursday, September 9, 2021

नौकरी देने के लिए यह नया कदम उठाएगी यूपी सरकार

AAविभिन्न क्षेत्रों की बड़ी से बड़ी निजी कंपनियों के प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाएगा। सरकारी और अर्धसरकारी विभागों में मिलेगी नौकरी।

लखनऊ (अखिलेश कृष्ण मोहन)।। बेरोजगारों को रोजगार देने के लिए यूपी सरकार रोजगार मेला का आयोजन करने जा रही है। यह मेला लखनऊ में लगेगा। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन ने निर्देश दिए हैं कि रोजगार मेला का आयोजन किया जाए, जिसमें विभिन्न क्षेत्रों की बड़ी से बड़ी निजी कंपनियों के प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाए। उन्होंने कहा कि ऐसे मेलों के आयोजन से प्रशिक्षित बेरोजगार युवाओं को अपनी प्रतिभा एवं योग्यता के अनुसार प्रतिष्ठित कम्पनियों में सुगमता से रोजगार प्राप्त हो सकेगा।

मुख्य सचिव ने आगे कहा कि बेरोजगारों के लिये पोर्टल के अन्तर्गत रोजगार मेला एवं कैरियर काउंसिलिंग कार्यक्रमों का निरन्तर अनुश्रवण सुनिश्चित कराया जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि प्रदेश के बेरोजगार अभ्यर्थियों का ऑनलाइन पंजीकरण एवं रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने हेतु प्रदेश के सरकारी, अर्द्धसरकारी विभागों में होने वाले रिक्तियों/भर्तियों को सेवायोजन विभाग के पोर्टल पर अवश्य प्रदर्शित कराया जाए। सेवायोजन पोर्टल का सुचारु रूप से क्रियान्वयन सुनिश्चित कराते हुये व्यापक रूप से प्रचार कराया जाए, ताकि अधिक से अधिक युवा वर्ग लाभान्वित हो सके। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि कारखाना एवं ब्वायलर प्रभाग तथा भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड में सुरक्षा के दृष्टिगत सेमिनार का आयोजन अवश्य कराया जाए।

मुख्य सचिव मंगलवार को शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में श्रम विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भवन निर्माण कार्यों से सम्बन्धित श्रमिकों को चिकित्सा सुविधा कर्मचारी राज्य बीमा योजना के अन्तर्गत पारदर्शिता के साथ उपलब्ध करायी जाये। उन्होंने कहा कि कर्मचारी राज्य बीमा योजना के अन्तर्गत बीमांकित के उचित उपचार हेतु रिवाल्विंग फण्ड की व्यवस्था भी सुनिश्चित हो। श्रमिकों का अधिक से अधिक पंजीकरण कराकर प्रदेश सरकार की जनहितकारी योजनाओं से लाभान्वित कराने हेतु अभियान चलाया जाये। श्रम कानूनों का व्यापक प्रचार कराने हेतु श्रम विभाग के क्षेत्रीय कार्यालय स्तर पर श्रम सेक्टर के समस्त अधिकारियों की संयुक्त रूप से गोष्ठियां आयोजित कराई जायें।

फाइल फोटोः पत्नी डिंपल यादव के साथ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।