Monday, September 6, 2021

VIDEO: बच्चों की टॉनिक में मिला तैरता हुआ मेंढक

vlcsnap-2015-12-21-20h12m44s215बच्चे को पिलाने की थी तैयारी, हो सकती थी मौत, डीएम ने दिए जांच के आदेश

बस्ती (अखिलेश कृष्ण मोहन/राघवेंद्र सिंह)।। कोई भी सीरप बच्चों को पिलाने या खुद पीने के पहले जरूर यह देख लें कि उसके घोल में सबकुछ ठीक है या नहीं। बस्ती जिले छावनी थाना के डुहवा मिश्र गांव में ऐसे ही एक मामले से सनसनी है। वहां के कृष्ण कुमार अपनी बहन को दिखाने के लिए गांव के ही एएनएम सेंटर पर ले गए थे, वहां पर एएनएम ने के-लैब कम्पनी की बीकोफिक्स नाम का बीकाम्पलेक्स सीरप लिख दिया। दवा को खरीदने के लिए कृष्ण कुमार हर्रैया के संतोष मेडिकल पर गए, सीरप खरीदने के बाद जब उसको पीने के लिए खोलने लगे तो सील बंद सीरप में मरा हुआ मेंढक देख कर सन्न रह गए, जिसके बाद परिजनों ने मेडिकल स्टोर पर इस को दिखाया, मेडिकल स्टोर मालिक ने सीरप बदल कर दूसरा सीरप देने की बात कही, लेकिन कृष्ण कुमार ने सीरप वापस न कर इस की शिकायत कर दी, जिसके बाद मामले की जांच के निर्देश दिए गए हैं।

वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करिए।

इलाके के लोग नाराज

इलाके के नाराज लोगों को कहना है कि दवाएं लोगों के सेहत के लिए दी जाती हैं, लेकिन आजकल कमीशनखोरी की वजह से लोग किसी भी कम्पनी की दवा लिख देते हैं, जाहिर है दवा लिखने में मोटे कमीशन का खेल चलता है, डॉक्टर से लेकर दवा व्यावसायी को भी अधिक लाभ होता है।

क्लिक करिए और देखिए क्या कहते हैं दवा खरीदने वाले कृष्ण कुमार 

मुंबई की दवा कंपनी K-LAB के सीलबंद बी काम्पलेक्स सीरप में मरा हुआ मेंढक निकलने से हड़कंप मच गया है, जिसके बाद पीड़ित ने इस की शिकायत डीएम से की है। डीएम अनिल कुमार दमेले ने मामले की गंभीरता को देखते हुए ड्रग इंस्पेक्टर को जांच के निर्देश दिए हैं

फोटोः मुंबई की दवा कंपनी K-LAB के सीलबंद बी-काम्पलेक्स सिरप में मरा हुआ मेंढक।