Sunday, August 29, 2021

जाति छिपाकर लड़के ने की शादी, पता चला तो लड़की ने दर्ज कराई FIR

अहमदाबाद। गुजरात से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां की 23 साल की एक महिला ने अपने पति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है कि उसने शादी के पहले बताया था कि वह ब्राह्मण है, लेकिन बाद में पता चला कि वह दूसरी जाति का है। एकता पटेल नाम की इस महिला ने इस मामले में पति पर भरोसा तोड़ने का आपराधिक केस दर्ज कराया है।

शादी

मेहसाणा जिले के बेचराजी तालुका के आदिवाड़ा गांव की रहने वाली एकता पटेल ने कहा कि 23 अप्रैल को जिस शख्स से उनकी शादी हुई, उसने अपना सरनेम मेहता बताते हुए कहा कि वह एक ब्राह्मण है। शादी का रजिस्ट्रेशन कराने के कुछ समय बाद महिला को पता चला कि पति का सरनेम खमार है और वह ब्राह्मण नहीं हैं। इसके बाद एकता ने शाहपुर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई।

एकता ने पुलिस को बताया कि पिछले साल अप्रैल में एम कॉम करने के बाद वह नौकरी की तलाश में गैस एजेंसी गई। वहां अकाउंटेंट के पद पर उसे फर्म की मालिक ज्योत्सना मेहता ने 5000 रुपए महीने के वेतन पर रख लिया। एकता ने कहा कि इसी दौरान वह ज्योत्सना के बेटे यश के संपर्क में आई, जिसने बताया कि वह ब्राह्मण है।

पीड़िता ने कहा कि मैंने उनसे शादी का फैसला किया क्योंकि वह भी मेरी तरह सवर्ण थे। इस साल 23 अप्रैल को हिंदू रीति-रिवाज से खानपुर के स्टर्लिंग सेंटर में एक पुजारी की मौजूदगी में शादी हुई इसके बाद हमने मैरिज रजिस्ट्रार एएमसी शाहपुर के दफ्तर में शादी का रजिस्ट्रेशन कराया।

शादी के बाद एक दिन मुझे पता चला कि यश का सरनेम खमार था। मैंने यश के सरनेम के बारे में जब पूछताछ की, तो पता चला कि यह ब्राह्मण जाति नहीं है। यश ने अपनी जाति छिपाते हुए मेरा भरोसा तोड़ा। इसके बाद महिला ने अपने परिजनों को इस बारे में बताया। परिजन उन्हें लेकर पुलिस थाने पहुंचे और खमार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई।