Friday, September 3, 2021

यशभारती-पद्म पुरस्कार पानेवालों की पेंशन के लिए एक करोड़ मंजूर

YASHBHARTI-ABHISHEK

लखनऊ (अखिलेश कृष्ण मोहन)।। यशभारती और पद्म पुरस्कार से सम्मानित विभूतियों को 50 हजार रुपए मासिक पेंशन देने की कोशिशों को अमली जामा पहनाने के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक करोड़ रुपए की मंजूरी दे दी है। जल्द ही इसे संस्कृत विभाग द्वारा जारी किया जाएगा। यूपी सरकार की इस पेंशन योजना को देश की सबसे बड़ी पेंशन योजना के रूप में देखा जा रहा है।

देश में किसी भी विभाग में इतनी बड़ी राशि पेंशन के रूप में नहीं दी जाती है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस पेंशन राशि देने को लेकर कहा था कि वह साहित्यकारों और विभूतियों को तंगहाली में नहीं देख सकते। समाजवादी सरकार हर हालत में इनके लिए कुछ ऐसा कर रही है जिससे उनकी जिन्दगी आसान हो सके। वह जिंदगी के आखिरी दौर में किसी के सामने हाथ पसारने के लिए मजबूर न हों।

क्या कहते हैं पुरस्कार पाने वाली विभूतियां

यशभारती पुरस्कार से सम्मानित प्रदेश सबसे कम उम्र के स्पेशल कमांडो ट्रेनर अभिषेक यादव कहते हैं कि सरकार की यह कोशिश इन पुरस्कारों का भी सम्मान है। चाहे वह पद्म पुरस्कार हो या यशभारती यह सम्मान पाने के बाद भी कई विभूतियां ऐसी हैं जो बीमार होने पर अपना इलाज तक नहीं करवा पाती हैं। उन्हें खाने-पीने के भी ले लाले पड़ जाते हैं। टेलीफोन पर पटना से अभिषेक यादव ने इस कोशिश के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया है। अभिषेक यादव पूरे देश में लड़कियों को सेल्फ डिफेंस के लिए स्पेशल कमांडो ट्रेनिंग देते हैं। उन्हें आधा दर्जन से अधिक गोल्ड मेडल मिले हैं। (बाकी विभूतियों की प्रतिक्रियाएं जल्द अपडेट होंगी।)

फोटोः फाइल।