Friday, September 3, 2021

MCA और BCCI की लड़ाई में उलझी भारतीय महिला क्रिकेट टीम !

नई दिल्ली। BCCI और MCA के बीच विवाद के कारण भारतीय महिला क्रिकेट टीम को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बोर्ड के साथ विवाद होने की वजह से मुंबई क्रिकेट ऐसोसिएशन ने बगावत कर दी है। इसी की वजह से महिला क्रिकेट टीम के लिए ही वानखेडे के दरवाजे बंद हो गए है।

भारतीय महिला क्रिकेट

भारतीय महिला टीम इस साल होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिए तैयारियों में जुटी है। इसी के तहत टीम का एक हफ्ते का कैंप वानखेडे में लगाया जाना था लेकिन MCA की बगावत के बाद टीम को ब्रेबॉर्न स्टेडियम में शिफ्ट करना पड़ा। महिला टी-20 वर्ल्डकप इसी साल नवंबर में खेला जाएगा।

क्या है पूरा मामला

दरअसल BCCI ने भारत और वेस्टइंडीज के बीच 29 अक्टूबर को होने वाला दूसरा वनडे मैच ब्रेबोर्न स्टेडियम में कराने का फैसला लिया गया था। पहले यह मैच वानखेड़े स्टेडियम में आयोजित होना था।

MCA की वित्तीय परेशानी के चलते BCCI ने पिछले शुक्रवार को इस मैच को स्थानांतरित कर दिया था। संजय नायक और रवि सावंत ने बोर्ड के इस फैसले के खिलाफ कोर्ट में याचिका दायर की और कहा कि यह अवैध व मनमानी तरीके से किया गया है, जबकि इसके लिए MCA को कोई नोटिस जारी नहीं किया।

बुधवार को न्यायमूर्ति बीआर गवई की अध्यक्षता में एक खंडपीठ इस याचिका पर सुनवाई कर सकती है। याचिका में दावा किया गया है कि ब्रेबोर्न स्टेडियम अंतरराष्ट्रीय मैचों की मेजबानी नहीं कर सकता। वह केवल अभ्यास मैच की मेजबानी कर सकता है। ब्रेबोर्न स्टेडियम ने पिछली बार 2006 में वनडे मैच की मेजबानी की थी, जबकि टेस्ट मैच 2009 में हुआ था।