Friday, August 27, 2021

लोकसभा चुनाव से पहले, केशव प्रसाद मौर्या को बीजेपी ने दी ये बड़ी जिम्मेदारी !

लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी ने 2019 के लोकसभा चुनाव में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की सांगठानिक क्षमता व अनुभवों का इस्तेमाल करने का फैसला किया है। मौर्य को अब यूपी के मौजूदा सांसदों के रिपोर्ट कार्ड बनाने की अहम जिम्मेदारी दी गई है। इसके साथ ही मौजूदा सांसदों के टिकट बरकरार रखने या उनके स्थान पर नए दावेदार को स्थान देने के बारे में फैसला लेने के लिए एक कमेटी बनाई गई है।

केशव प्रसाद मौर्य

केशव मौर्य ने 2017 के विधान सभा चुनाव में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रहते हुए पार्टी को प्रचंड बहुमत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी।

कमेटी में संगठन और सरकार के लोग शामिल-

सूत्रों के अनुसार, पार्टी ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा. महेन्द्र नाथ पाण्डेय की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई है। इसमें महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल, उपाध्यक्ष उपेन्द्र शुक्ला, महामंत्री विजय बहादुर पाठक व काबीना मंत्री ब्रजेश पाठक समेत आधा दर्जन से अधिक पदाधिकारी हैं। केशव अपनी रिपोर्ट इस कमेटी को पेश करेंगे।

गोपनीय बैठक में हुआ फैसला

यह फैसला गुरुवार की देर रात उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के सरकारी आवास पर हुई एक उच्चस्तरीय गोपनीप्रमुख संवाददाता / राज्य मुख्यालय बैठक में किया गया। बैठक में मौर्य के अलावा भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष, महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल समेत चुनिन्दा पदाधिकारी व काबीना मंत्री थे।

मौर्य जिलों में जाकर तैयार करेंगे रिपोर्ट कार्ड-

सांसदों के रिपोर्ट कार्ड तैयार करने के खातिर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य अब प्रदेश के हर जिले में जाकर क्षेत्रीय व जिला संगठन के पदाधिकारियों से मौजूदा सांसदों के बारे में राय लेंगे। कार्यकर्ताओं और जनमानस से भी बात करेंगे। कमेटी अपनी रिपोर्ट तैयार कर केंद्रीय नेतृत्व को भेजेगी। जहां सांसदों को टिकट देने के बारे में अंतिम फैसला किया जाएगा। यह नई जिम्मेदारी पाने के बाद श्री मौर्य ने शुक्रवार से विभिन्न जिलों का दौरा भी शुरू कर दिया है। इसकी शुरुआत उन्होंने गोरखपुर से की है। शनिवार को वे मुजफ्फरनगर में होंगे।

शाह के लखनऊ एक दिन प्रवास में मिली यह जिम्मेदारी-

माना जा रहा है कि भाजपा के प्रदेश नेतृत्व ने श्री मौर्य को यह अहम जिम्मेदारी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के निर्देश पर दी है। शाह पिछली 24 अक्तूबर को लोकसभा चुनाव की तैयारियों के सिलसिले में लखनऊ में एक दिन के प्रवास पर थे। यहीं उन्होंने आरएसएस के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। इसके साथ ही सरकार और संगठन के प्रमुखों से भी बात की। इसी दौरान वह उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य से भी मिले थे।