Saturday, September 4, 2021

सीएम से हिसाब मांगने आए इमाम बुखारी की प्रेसकांफ्रेंस में बवाल, कैसरबाग इंस्पेक्टर को दी गई तहरीर

Shahi_imam_2744859fइमाम बुखारी ने लखनऊ में दी सपा सरकार को नसीहत, तीन महीनों में पूरा करें वादे

सीएम से मिलेगा प्रतिनिधिमंडल, मांगों और वादों को लेकर उन्हें करवाएगा अवगतः बुखारी

लखनऊ (अखिलेश कृष्ण मोहन)।। यूपी सरकार से सत्ता और मदद का हिसाब मांगने आए दिल्ली जामा मस्जिद के इमाम बुखारी खुद ही फंसते नजर आ रहे हैं। वह राजधानी के जेमिनी कांटीनेंटल होटल में प्रेस कांफ्रेंस कर रहे थे, इसी दौरान सवाल पूछने वाले एक पत्रकार को उनका पीएसओ दबोचकर बाहर ले जाने लगा। इस दौरान लखनऊ मीडिया के पत्रकारों ने देख लिया और बुखारी के पीएसओ को खदेड़ा। वह पहले तो होटल के कमरे में भागा और बाद में कपड़ा बदलकर फरार हो गया, लेकिन यूनाइटेड पत्रकार एसोसिएशन के महामंत्री जावेद हैदर ज़ैदी मौलाना अहमद बुखारी और उनके गुर्गों के खिलाफ कैसरबाग इंस्पेक्टर को तहरीर दी है। पीएसओ का नाम इकबाल बताया जा रहा है। बुखारी ने बाद में मीडिया वालों ने मांफी भी मांगी। ऐसा पहली बार हुआ कि पत्रकारों ने बुखारी की बोलती बंद कर दी।

प्रेस कांफ्रेंस में बुखारी ने कहा कि सपा सरकार में 20 फीसदी मुस्लिम आबादी को नजर अंदाज किया गया। सरकार ने मुसलमानों को आबादी के हिसाब से रिजर्वेशन देने को लेकर सपा ने जो वादे किए थे, उसे पूरा किया जाए। इसको लेकर लखनऊ में आज बैठक में बात रखी गई है। सपा प्रदेश ने मुसलमानों को सुरक्षा देने को लेकर जो वादा किया था वह भी पूरा नहीं हुआ, ये सवाल यूपी सरकार की लालबत्ती गाड़ी से आए इमाम बुखारी ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से की किया है।

इस दौरान बुखारी ने कहा है कि मुसलमानों से किए गए ये वादे यदि पूरे नहीं किए गए तो वह कुछ भी फैसला कर सकता है। क्योंकि मुसलमान किसी भी पार्टी का गुलाम नहीं है। प्रेस से पहले हुई बैठक को लेकर उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में मुसलमानों के हालात को लेकर चिंता जाहिर की गई है। सपा सरकार की मुसलिम मुद्दों को लेकर जो खामोशी है, उसको लेकर मुसलमान ठगा महसूस कर रहा है। सूबे में माहौल लगातार खराब हो रहा है। इससे बचने के लिए सपा को चाहिए कि वह ऐसा करे कि यह जाहिर हो कि वह मामलों को लेकर गंभीर है।

बैठक में यह भी फैसला लिया गया है कि जो वादे मुसलमानों से सपा ने चुनाव से पहले किए थे, वह तीन महीने में पूरा होने चाहिए। यह भी फैसला किया गया है कि मुख्यमंत्री से मिलकर आज की बैठक के बारे में अवगत करवाया जाएगा।

फोटोः जेमिनी कांटीनेंटल होटल के प्रेस कांफ्रेंस में बोलते हुए दिल्ली जामा मस्जिद के इमाम बुखारी (ऊपर), पीएसओ के बवाल करने के बाद नाराज पत्रकार प्रेस का बहिष्कार करते हुए (नीचे)