Tuesday, August 31, 2021

CM केजरीवाल के जनता दरबार में जिंदा कारतूस के साथ मौलवी गिरफ्तार

New Delhi. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के दफ्तर में लगने वाले जनता दरबार में जाने वाले एक मस्जिद के मौलवी को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि यह घटना सोमवार सुबह की है। इससे छह दिन पहले एक शख्स ने अरविंद केजरीवाल पर मिर्ची से हमला किया था।

अरविंद केजरीवाल

पुलिस ने गिरफ्तार किए गए शख्स की पहचान 39 वर्षीय मोहम्मद इमरान के रूप में की है, वह जनता दरबार में 12 अन्य मौलवी और इमाम के साथ आया था। उसकी मांग थी कि वक्फ बोर्ड के स्टॉफ की सैलरी बढ़ाई जाए। नार्थ दिल्ली के एडिशनल कमिश्नर ऑफ पुलिस हरेंद्र सिंह ने कहा कि सीएम ऑफिस में घुसने के दौरान हुई जांच के दौरान पुलिस ने .32 बोर की जिंदा कारतूस उसके पर्स से बरामद की।

जानकारी के मुताबिक, इमरान ने दिल्ली पुलिस को बताया है कि उसे ये गोलियां एक मस्जिद से दान में मिलीं थी। उसने इन गोलियों को अपने बटुए में रख लिया और बाद में इसके बारे में भूल गया। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है और उसके खिलाफ आर्म्स एक्ट में केस दर्ज कर लिया है।

आपको बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर कुछ दिनों सचिवालय में उस वक्त एक शख्स ने मिर्ची पाउडर फेंक दिया जब वे लंच के लिए दोपहर 2:10-2:15 के करीब ऑफिस से निकल रहे थे। हमलावर की पहचान अनिल शर्मा के तौर पर हुई है।

नारायणा का रहनेवाला अनिल शर्मा दिल्ली सचिवालय में आम आदमी पार्टी के संयोजक केजरीवाल के ऑफिस से बाहर आने का इंतजार कर रहा था। जैसे ही केजरीवाल ऑफिस से बाहर निकले, शर्मा भागे हुए उनके पास आया और बोला- ‘आप ही से उम्मीद है’। उसके बाद शर्मा ने केजरीवाल के पैर छूने का ढोंग किया। शर्मा के एक हाथ में पत्र था जबकि दूसरे हाथ में मिर्च पाउडर था। उसने गुटखा पैकेट में मिर्च का पाउडर लाया हुआ था।

केजरीवाल ने शर्मा को पैस छूने से रोका, उसके फौरन बाद शर्मा ने खड़ा होते ही केजरीवाल के चेहरे पर मिर्च पाउडर फेंक दिया। शर्मा को हिरासत में ले लिया था।