Monday, August 30, 2021

कम उम्र के बच्चे करने लगे रेप और क्राइम, जानिये क्या है वजह

new delhi। दिल्ली एनसीआर में ऐसे कई मामले सामने आए हैं। जहां पर नाबालिग बच्चे छोटी-छोटी बातों में मर्डर जैसे क्राइम कर देते है। वहीं इस तरह के भी मामले हैं जहां पांचवी में पढ़ने वाला बच्चा अपनी से कम उम्र के साथ सेक्सुअल असॉल्ट जैसी घटना को अंजाम दे देता है। -dainikdunia.com

आखिर क्या वजह है कि कम उम्र के यह बच्चे अपनी मासूमियत खोते जा रहे हैं और इतने खतरनाक क्राइम करने से भी गुरेज नहीं कर रहे हैं। हमने बात की बीएलके हास्पिटल के सीनियर साइकेट्रिस्ट मनीष जैन से, डॉक्टर ने बताया कि यह सच है कि बच्चे उम्र के मुकाबले जल्दी बड़े हो रहे हैं, बच्चों का बचपना खत्म हो जा रहा है उनकी मासूमियत समय से पहले ही खत्म हो रही है आज बच्चे की जिद पूरी ना होना उसे बर्दाश्त नहीं होता।

 

मोबाइल और इंटरनेट

 

इंटरनेट की खुली दुनिया

डॉ मनीष जैन का कहना है कि मोबाइल और इंटरनेट ने बच्चों को एक नई दुनिया का एक्सेस दे दिया है यहां से बच्चे काफी कुछ अच्छा सीखते हैं तो कभी-कभी ऐसा भी जो नहीं सीखना चाहिए, इंटरनेट और मोबाइल ने बच्चों को ऐसी जगह भी एक्सेस दे दिया है जो उन्हें इस उम्र में नहीं मिलना चाहिए।

 

also read. महिला सैनिक ने कहा- मैं बीमार थी मेजर मुझसे मिलने आए और उतरवा..!

 

पैरेंटिंग में बदलाव से बच्चों पर असर

डॉ मनीष जैन बताते हैं कि आज के समय में पैरेंटिंग में बदलाव भी बड़ा कारण है आज मां और बाप दोनों वर्किंग है तो उसका भी बड़ा असर पड़ता है। बच्चे को जितना वक्त मां और बाप की तरफ से मिलना चाहिए वह नहीं मिल पा रहा है और यही वजह है कि जो भावनात्मक लगाव उनका और परिवार का होना चाहिए वह नहीं हो पा रहा है।

 

कहीं से तो सीखा होगा

जब कोई नाबालिक बुरी तरह से किसी की हत्या कर देता है या सात आठ साल का बच्चा किसी छोटी बच्ची के साथ उसका सेक्सुअल असॉल्ट करता है तो यह तय है कि इस तरह की वारदात बच्चे ने कहीं देखी है या उसके साथ हुई है तभी वह ऐसा कर पाया है इसलिए बच्चों के व्यवहार को ध्यान से आब्सर्व करिए। और अगर उसने आपको कुछ अनोखा या हद पार करने वाला लगे तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

 

-file photo