Wednesday, September 8, 2021

जानिए क्यों यूपी चुनाव हार जाएंगे सपा के कई मंत्री

MULAYAM SINGH YADAVलखनऊ (DIGITAL MEDIA ASSOCIATION) ।। समाजवादी पार्टी (सपा) मुखिया मुलायम सिंह यादव ने गत लोकसभा चुनाव में पार्टी की करारी हार के कारणों के बारे में अब तक रिपोर्ट नहीं देने पर पार्टी पदाधिकारियों पर बरसते हुए बुधवार को कहा कि उन्हें मिली जानकारी के मुताबिक, बड़ी संख्या में प्रदेश के मंत्री आगामी विधानसभा चुनाव हारने जा रहे हैं।

यादव ने ‘छोटे लोहिया’ के नाम से मशहूर समाजवादी नेता जनेश्वर मिश्र की जयन्ती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं से कहा ”हमने आपसे लोकसभा चुनाव में कड़ी मेहनत करने को कहा था लेकिन आपने हमें कहीं का नहीं छोड़ा। सिर्फ हमारे परिवार के पांच लोग ही लोकसभा पहुंच सके। हमने आपसे इस हार के कारणों का पता लगाने के लिये बैठकें कर रिपोर्ट देने को कहा था लेकिन मुझे वह भी अब तक नहीं मिली।” उन्होंने कहा ”अगर आप अपने अंदर नहीं झांकेंगे तो हम आगे कैसे कामयाब होंगे। जब हमने पार्टी बनायी थी तब कड़ी मेहनत के बल पर हम सिर्फ 11 महीने के अंदर सरकार बनाने में सफल हो गये थे।”

राज्य सरकार के मंत्रियों पर बरसते हुए सपा मुखिया ने कहा ”जहां तक मुझे लोगों से जानकारी मिली है, बड़ी संख्या में मंत्रियों को 2017 के विधानसभा चुनाव में हार का स्वाद चखना पड़ेगा। अब भी समय है, आप (मंत्री) लोग वातानुकूलित कमरों से बाहर निकलिये और लोगों तक सरकार के कार्यों को पहुंचाइये।” प्रदेश में अगले महीने होने वाले पंचायत चुनावों के बारे में यादव ने कहा ”इन चुनावों को गम्भीरता से लिया जाना चाहिये लेकिन मुझे तो कोई तैयारी दिख नहीं रही है।” सपा प्रमुख यादव ने कहा ”पंचायत चुनाव सिर पर हैं। उसके लिये पार्टी की क्या तैयारी है। अगले साल विधान परिषद के 36 सदस्यों का चुनाव होना है। मैं नहीं जानता कि उसके लिये क्या तैयारी की जा रही है।” उन्होंने कार्यकर्ताओं को पंचायत चुनाव स्वतंत्र और निष्पक्ष ढंग से करवाने के आदेश देते हुए कहा ”मैं विधानसभा चुनाव का टिकट चाहने वाले लोगों से कहना चाहता हूं कि अगर वे अपने क्षेत्र में सपा प्रत्याशियों को जीत नहीं दिला सके तो पार्टी उनकी उम्मीदवारी पर दोबारा विचार करेगी।” पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचायतों के बल पर मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने बंगाल पर 34 साल तक राज किया। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को पंचायत चुनावों की तैयारी जल्द से जल्द शुरू करनी चाहिये। विधानसभा चुनाव के लिये टिकट देने की प्रक्रिया की समीक्षा पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव कर रहे हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं को हिदायत दी कि वे अराजक व्यवहार से बाज आएं और जिलों में प्रशासन के अधिकारियों पर दबाव ना डालें।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कांग्रेस और भाजपा पर हमला करते हुए कहा ”चाहे लालू हों, मुलायम हों, जयललिता हों या फिर कोई और हो, कांग्रेस ने अनेक लोगों पर इल्जाम लगाये। अब भाजपा भी उसी के रास्ते पर चल रही है।” लोकसभा में सपा का संख्याबल बहुत सीमित होने पर रंज का इजहार करते हुए मुलायम सिंह यादव ने कहा ”मैं ज्यादा ताकत के साथ लोकसभा में जाना चाहता था लेकिन अब लोग बातें बनाते हैं कि लोकसभा में हम सिर्फ पांच ही हैं। मैं खुद, मुख्यमंत्री की पत्नी, दो भतीजे और एक पौत्र हैं।”

फोटोः फाइल