Wednesday, September 8, 2021

दूध बेचने वाले यादव परिवार का यह बेटा, अब खेलेगा वर्ल्ड कप

नई दिल्ली ।। Indian Cricket Team के विकेट कीपर एंव पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनीका किसी को परिचय देने की जरूरत नहीं है और इंडिया को ऐसा ही एक और प्लेयर फिर से मिलने जा रहा है। जी हां आपने सही सुना धौनी के होमटाउन रांची से पंकज यादव ने अंडर 19 में जगह बनाई है। -DAINIKDUNIA.COM

सबसे अच्छी बात ये है कि Right hand spin गेंदबाज पंकज के पिता दूध बेचने काकाम करते हैं। ये Indian Cricket Team अगले साल न्यूजीलैंड में होने वाले अंडर 19 में हिस्सा लेगी। आपको बता दें कि टूर्नामेंट अगले साल 13 January से 3 Fabuary तक चलेगा। इस मुकाबले में कुल 16 टीमें होंगी और सभी देशों ने विश्व के लिए अपनी टीमों की घोषणा कर दी है।

पंकज यादव ने अंडर 19

 

हालांकि अगर इस प्रारुप में India के प्रदर्शन की बात करें तो यहां टीम का प्रदर्शन संतोषजनक नहीं रहा है। अभी हाल ही में संपन्न हुए अंडर 19 Asia Cup में टीम को बांग्लादेश एंव नेपाल से हार का सामना करना पड़ा है। इतना ही नहीं टीम प्लेऑफ में भीM अपनी जगह पक्की नहीं कर पाई है।

 

ALSO READ.  महिला सैनिक ने कहा- मैं बीमार थी मेजर मुझसे मिलने आए और उतरवा ..!

 

आपको बता दें कि अंडर 19 में शामिल हुए पंकज यादव दाएं हाथ के फिरकी गेंदबाज हैं। पंकज उस वक्त चयकर्ताओं की नजर में आए, जब उन्होंने राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अच्छे अच्छे बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई थी।

पंकज यादव ने अंडर 19

पंकज के पिता घर घर जाकर दूध बेचने का काम करते हैं। इस बीच पंकज को मिली इस उपलब्धि से उनके माता पिता दोनों ही बेहद खुश हैं। पकंज का कहना है कि उनका अगला लक्ष्य सीनियर टीम में खेलने का है। इस उपलब्धि के लिए पकंज का सारा श्रेय मां और कोच युक्तिनाथ झा को देते हैं।

पंकज शुरुआत से ही पढ़ाई में काफी कमजोर थे। उनका पढ़ाई में दिल नहीं लगता था, इसलिए उन्होंने माता पिता से कहा था कि वे क्रिकेट खेलना चाहते हैं। इसके बाद पंकज के पिता ने उन्हें रांची के 1 क्रिकेट अकादमी में प्रवेश दिलवा दिया।

पंकज यादव ने अंडर 19

गरीबी के बावजूद पंकज के पिता ने उनकी ट्रेनिंग में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं छोड़ी। मां ने भी पंकज की ट्रेनिंग में पूरा पूरा साथ दिया। वे उन्हें साथ लेकर जाती और ट्रेनिंग खत्म होने तक वहीं रुकतीं। इसके अलावा पंकज ने भी दिल लगाकर कड़ी मेहनत की और उनका Selection 15 सदस्यों की भारतीय अंडर-19 में हो गया।

 

-FILE PHOTO