Monday, August 30, 2021

पीएम मोदी होंगे ये पुरस्कार पाने वाले पहले भारतीय, 2 लाख डॉलर राशि भी मिलेगी !

New Delhi. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सियोल शांति पुरस्कार 2018 के लिए चुना गया है। सियोल पीस प्राइज पाने वाले पीएम मोदी 14वें व्यक्ति और पहले भारतीय होंगे। अवॉर्ड के साथ-साथ मोदी को दो लाख डॉलर की राशि उपहार स्वरूप दी जाएगी। सियोल पीस प्राइज कल्‍चरल फाउंडेशन के चेयरमैन ने इसकी घोषणा की है।

पीएम मोदी

पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नई दिल्ली में संयुक्त राष्ट्र का सबसे बड़ा पर्यावरण सम्मान भी दिया गया था। संयुक्त राष्ट्र संघ ने मोदी और फ्रांसीसी राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों को संयुक्त रूप से ‘चैंपियंस ऑफ द अर्थ’ अवॉर्ड से सम्मानित किया था।

पीएम मोदी को सियोल पीस पाइज अंतरराष्‍ट्रीय सहयोग, वैश्विक आर्थिक प्रगति और भारत के लोगों के मानवीय विकास को तेज करने के लिए प्रतिबद्धता दिखाने पर दिया जा रहा है। बताते चलें कि इससे पहले यह सम्मान संयुक्त राष्ट्र महासचिव कोफी अन्नान और जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल को मिल चुका है।

विदेश मंत्रालय के मुताबिक, पुरस्कार समिति ने भारतीय और वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं के विकास में प्रधानमंत्री मोदी के योगदान को सराहा है। अमीरों और गरीबों के बीच सामाजिक और आर्थिक असमानता को कम करने के लिए मोदिनॉमिक्स को भी श्रेय दिया है।

चयन समिति ने माना परफेक्ट उम्मीदवार

चयन समिति के अध्यक्ष चो चुंग-हू ने कहा कि 12 सदस्यों की समिति ने विश्व भर में 100 से ज्यादा उम्मीदवारों के नाम पर गहन चर्चा के बाद पीएम मोदी को चुना। इन उम्मीदवारों में मौजूदा और पूर्व राष्ट्राध्यक्ष, राजनेता, बिजनसमैन, धार्मिक नेता, स्कॉलर, पत्रकार, कलाकर, एथलीट, अंतरराष्ट्रीय संगठन आदि शामिल थे। समिति ने मोदी को ‘परफेक्ट कैंडिडेट’ माना है।

समिति ने नोटबंदी और अन्य प्रयासों के जरिए भ्रष्टाचार पर काबू करने और साफ सुथरी सरकार चलाने के लिए पीएम मोदी की सराहना की है। बयान में कहा गया है कि मोदी ने दुनिया भर के देशों के साथ एक सक्रिय विदेशी नीति के माध्यम से क्षेत्रीय और वैश्विक शांति के लिए काम किया है।

1990 में शुरू हुआ था सम्मान

इस प्रतिष्ठित सम्मान के लिए अपना आभार व्यक्त करते हुए और दक्षिण कोरिया के साथ भारत की मजबूत साझेदारी को ध्यान में रखते हुए पीएम मोदी ने पुरस्कार को स्वीकार कर लिया है।

1990 में सियोल में आयोजित 24वें ओलंपिक खेलों की सफलता का जश्न मनाने के लिए सियोल पीस प्राइज की स्थापना की गई थी। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के पूर्व अध्यक्ष जुआन एंटोनियो समरंच को सबसे पहले इस सम्मान से नवाजा गया था।

इन नीतियों के लिए हुई तारीफ

समिति ने भ्रष्टाचार विरोधी अभियान और नोटबंदी के जरिए सरकार को ‘साफ’ रखने के लिए पीएम मोदी के प्रयासों की तारीफ की है। इसके अलावा, समिति ने ‘मोदी सिद्धांत’ और ‘एक्ट ईस्ट पॉलिसी’ के तहत दुनिया भर के देशों के साथ सक्रिय विदेश नीति के माध्यम से क्षेत्रीय और वैश्विक शांति के प्रति उनके योगदान के लिए पीएम की तारीफ भी की है।