Saturday, August 28, 2021

दिल्ली किसान मार्च रैली में शरद पवार के बाद अब राहुल गांधी पहुंचेंगे !

New Delhi. देश के ऐतिहासिक रामलील मैदान में गुरुवार को देशभर से जैसे- आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल से इस दो दिवसीय किसान मार्च में हिस्सा लेने आए हैं।

किसान मार्च रैली

कई वर्षों से इस ऐतिहासिक मैदान को बड़े राजनीतिक आयोजन के लिए जाना जाता है। यहां पर गुरूवार की सुबह साढ़े दस बजे से किसानों का आना शुरू हो गया था। उनके रात में ठहरने के लिए टेंट का इंतजाम किया गया था।

किसानों की चिंता ही नहीं

शरद पवार ने कहा न्यूनतम मूल्य का समर्थन करता हूँ। देश के किसानों की स्थिति को बदलने की जरूरत है लेकिन जिनके कंधों ओर यह जिम्मेदारी है लेकिन उन्हें किसानों की चिंता नहीं। उन्होंने कहा कि मनमोहन सिंह के नेतृत्व में काफी काम हुआ लेकिन इस सरकार ने किसानों के लिए कुछ नहीं किया। यह सरकार खाद्य और बिजली की कीमत कम करने को तैयार नहीं है। गन्ना किसान तरस रहे हैं। किसानों को एक करके इस सरकार को चुनौती दी है। उन्होंने कहा कि किसानों का कर्ज माफ हो वे खून पसीना एक करके अनाज देता है। हम लोग चुप बैठने वाले नहीं।

किसान रैली में शरद पवार

पार्लियामेंट स्ट्रीट के बाद एकजुट हुए प्रदर्शनकारी किसानों को को संबोधित करने राष्ट्रवादी कांग्रेस अध्यक्ष शरद पवार पहुंचे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के भी थोड़ी देर में वहां पर पहुंचने की उम्मीद है।

राहुल गांधी हो सकते हैं शामिल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की शुक्रवार दोपहर करीब साढ़े तीन बजे तक किसान मार्च में शामिल होने की उम्मीद है। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल के भी शाम को किसानों को संबोधित कर सकते हैं।

प्रदर्शनकारी किसान फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने और फसल ऋण माफी को लेकर दिल्ली पुलिस की इजाजत के बाद पार्लियामेंट स्ट्रीट पहुंचे।