Saturday, September 4, 2021

JNU: राजनाथ का दावा गलत, कमिश्नर ने कहा नहीं मिले लश्कर के सबूत

BASSI

गृहमंत्री ने करवा दी फजीहत, अब देश की पाकिस्तान में हो रही है किरकिरी।

नयी दिल्ली ।। जेएनयूएसयू अध्यक्ष कन्हैया कुमार की गिरफ्तारी को उचित ठहराते हुए दिल्ली पुलिस आयुक्त बीएस बस्सी ने आज दावा किया कि परिसर में विवादित कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रविरोधी नारे लगाए थे, लेकिन कहा कि पुलिस को अब तक घटना को लेकर लश्करे तैयबा से जुड़ाव का सबूत नहीं मिला है।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ मुलाकात के बाद बस्सी ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘कन्हैया उस कार्यक्रम में मौजूद थे, जहां उन्होंने भाषण दिया और गैरकानूनी जमावडे में भागीदारी की, जहां भारत विरोधी नारे लगाए गए, उनकी संलिप्तता और हमें जो अब तक सबूत मिला है, उस वजह से देशद्रोह के आरोप में उन्हें गिरफ्तार किया गया है.’ आयुक्त ने दो बार कहा कि कन्हैया उस कार्यक्रम का हिस्सा थे, जिसमें राष्ट्रविरोधी नारे लगाए गए। उन्होंने कहा कि संसद हमले के दोषी अफजल गुरु को फांसी दिए जाने के खिलाफ जमावडा राष्ट्रविरोधी और गैरकानूनी था।

पुलिस कुछ अन्य छात्रों की भी तलाश कर रही है जो घटना के बाद फरार हो गए और उन्हें जल्द गिरफ्तार किया जाएगा.’ बहरहाल, बस्सी ने कहा कि जेएनयू घटना को लेकर लश्करे तैयबा के साथ जुड़ाव का कोई सबूत नहीं मिला है. उन्होंने कहा, ‘‘और जब यह मिलेगा इसे गृह मंत्रालय से साझा किया जाएगा.।