Tuesday, September 7, 2021

ढाई साल की बच्ची से रेप, गुस्साई भीड़ ने 30 घरों को फूंका

मानपुर. शिवपुरी जिले के खनियांधाना से सटे जालमपुर में गुरुवार की सुबह 20 वर्षीय युवक ने ढाई साल की बच्ची के साथ रेप कर डाला। आरोपी ने घर के आंगन में खेल रही बालिका को उठाया और ले भागा। लेकिन पड़ोस में रहने वाली महिला ने उसकी हरकत को देख लिया और चिल्ला पड़ी। इस पर लोग उसके पीछे दौड़े आैर आरोपी को पकड़ लिया।                        -dainikdunia.com

 

रेप

30 घरों में लगा दी आग

वारदात से गुस्साए लोगों ने पहले जालमपुर में रहने वाले वाल्मीकि समाज के 30 घरों में आग लगा दी। इसके बाद खनियांधाना में 4 मोटर साइकिल व देसी शराब की दुकानों को भी आग के हवाले कर दिया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

 

ALSO READ: पुरुष क्यों नहीं पहनते ऊंची हील के जूते ?

बच्ची का मुंह दबाकर भाग निकला आरोपी

जानकारी के मुताबिक जिस समय आरोपी भूरा उर्फ देव पुत्र रूपचंद्र वाल्मीकि ने घटना को अंजाम दिया, उस समय बच्ची की मां घर में बर्तन मांज रही थी। आरोपी घर में घुसा और बच्ची का मुंह दबाकर उसे उठाकर भाग निकला। पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने उसे भागते देखा तो शोर मचा दिया।

बच्ची का गला दबाकर मारने की धमकी

लोग जब तक उसका पीछा करते वह बच्ची को लेकर करीब 500 मीटर की दूरी पर बने तालाब तक पहुंचकर बच्ची से दुष्कर्म कर चुका था। पीछा करते लोगों ने उसे तालाब के किनारे दुष्कर्म करते देख लिया। आरोपी ने पहले तो बच्ची का गला दबा कर उसे मारने की धमकी दी। लेकिन लोग जब उसकी धमकी पर नहीं रुके तो वह बच्ची को छोड़कर तालाब के पानी में कूद गया। कुछ तालाब के पानी में कूदे। और उसे पकड़ लाए।

 

ALSO READ: पत्नी का पति ने किया ये हाल, बोला-बिना मार के औरतें नहीं मानतीं !…

बच्ची के टेस्टों के लिए जिला अस्पताल

शिवपुरी एसपी सुनील कुमार पांडे ने कहा, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस फोर्स भी मौके पर पहुंच गया था। लेकिन भीड़ इस घटना से उग्र हो गई थी। अब वहां शांति है। हालांकि इलाके में भारी तनाव छाया हुआ है। जिन लोगों के घर जले हैं, प्रशासन ने उन्हें रुकने के लिए अलग जगह मुहैया करा दी है। बच्ची को उपचार और अन्य कई तरह के टेस्टों के लिए जिला अस्पताल लेकर आए हैं।

पुलिस बच्ची को उसकी दादी के साथ मेडिकल और उपचार के लिए अस्पताल लेकर आई। जिला अस्पताल के आरएमओ डा. एसएस गुर्जर का कहना है कि बच्ची की हालत ठीक है। अभी वह खतरे से बाहर है।

आरोपी को तालाब से बाहर निकालने के बाद भीड़ ने उसकी पिटाई शुरू कर दी। इसी दौरान पुलिस भी वहां पहुंच गई। उसने आरोपी को अपने कब्जे में भारी मशक्कत के बाद लिया।

भीड़ ने गरीबों के घरों को लगा दी आग

घटना से गुस्साए खनियांधाना में लोगों ने एक देसी शराब की कलारी और 4 मोटर साइकिलों को आग लगा दी। इसके बाद भीड़ खनियांधाना से जालमपुर पहुंची और वहां रह रहे वाल्मीकि समाज के 30 घरों को आग लग दी। पुलिस फोर्स ने जब ऐसा करने से रोका तो पुलिस पर भी भीड़ ने पथराव कर दिया। जैसे-तैसे पुलिस बल ने हालातों पर काबू पाया।

उधर, मध्य प्रदेश के श्योपुर में गंभीर मामला सामने आया है। मानपुर थाना के मेवाड़ा पंचायत कछार गांव में बुधवार की सुबह 5 बजे 16 वर्ष की किशोरी को खेत पर बने कमरे में बंद कर रेप किया गया।

आरोपी की बहन और मौसी किशोरी को शौच के बहाने घर से खेत पर अपने साथ लाई थीं। वहां आकर इन दोनों ने उसे कमरे में बंद कर दिया।

आरोपी सहित उसकी बहन व मौसी के खिलाफ मामला दर्ज

आरोपी कमरे में पहले से मौजूद था। उसने किशोरी से दुष्कर्म किया। किशोरी घर पहुंची और शाम तक चुप रही, लेकिन बाद में उसने पूरी घटना परिजनों को बता दी।

किशोरी के परिजन ने बुधवार देर रात मानपुर थाने में शिकायत की। पुलिस ने आरोपी सहित उसकी बहन व मौसी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

आरोपी व पीड़िता पहले से परिचित बताए गए हैं। पुलिस का कहना है कि आरोपी युवती के बयान के आधार पर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। हालांकि अभी इस मामले में उसकी बहनों की जांच की जा रही है।